October 21, 2017

सोलन में पीलिया से फैली दहशत

सोलन, 17 अप्रैल – गर्मियों का सीजन शुरू होते ही जलजनित बीमारियां भी अपने पांव पसारने लगी हैं। इन दिनों सबसे अधिक पीलिया का प्रकोप तेजी से बढ़ रहा है। निजी व सरकारी अस्पतालों में प्रतिदिन पीलिया के एक दर्जन मामले सामने आ रहे हैं। आए दिन बढ़ रहे पीलिया के मामले को लेकर स्वास्थ्य विभाग भी गंभीर है। विभाग का दावा है कि फिलहाल पीलिया की बीमारी नियंत्रण में है। जानकारी के अनुसार सोलन में दिन-प्रतिदिन मौसम में हो रहे बदलाव के चलते लोगों को अस्पताल पहुंचा दिया है। शहर में अधिकतर लोग मौसम के बदलाव के चलते पीलिया के चपेट में आना शुरू हो गए हैं। क्षेत्रीय अस्पताल सोलन में बुधवार को इस बीमारी के आधा दर्जन मरीज अपना इलाज करवाने के लिए पहुंचे। हर वर्ष की भांति इस बार भी सोलन क्षेत्र के लोगों को मौसम में आ रहे लगातार बदलाव के चलते पीलिया ने अपनी चपेट में ले लिया है। रोजाना सोलन के अस्पताल में पीलिया से ग्रस्त लोग अपना इलाज करवाने के लिए यहां पहुच रहे हैं। बताया जा रहा है कि पीलिया की चपेट में सबसे अधिक बच्चे आ रहे हैं। शून्य से 15 वर्ष तक के बच्चों में मौसम परिवर्तन के कारण आने वाली परेशानियां खांसी, जुकाम, बुखार व पेट से जुड़ी समस्याएं बढ़ने लगी है। बुधवार को भी लगभग एक दर्जन से ज्यादा बच्चे जो इस बीमारी से ग्रसित हैं, ने अस्पताल आकर अपना चैकअप करवाया। स्वास्थ्य विभाग द्वारा लोगों को जलजनित बीमारियों से बचने के लिए जागरूक किया जा रहा है। विभाग द्वारा सलाह दी गई है कि पीलिया से बचने के लिए प्रतिदिन पीने का पानी उबाल कर प्रयोग करें। पानी को कम से कम 30 मिनट तक उबाले, इसके बाद ही इस प्रयोग में लाया जाए। क्षेत्रीय अस्पताल सोलन के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. संजीव गुप्ता ने बताया कि दो दिन मौसम साफ रहने के बाद एकदम मौसम के बदलने के कारण बच्चों में इस प्रकार की बीमारी फैल रही है। इस बीमारी से बचने के लिए बच्चों को पानी को उबाल कर पीना चाहिए व बच्चों को मौसम के अनरूप ही कपड़े पहनने चाहिए।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *