Header ad
Header ad
Header ad

सत्ता में रहते हुए धूमल को राजधर्म निभाना नहीं आया

26d5-1-300x261

जोगिंद्रनगर, 26 अप्रैल – प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने आरोप लगाया है कि प्रेम कुमार धूमल को सत्ता में रहते हुए राजधर्म निभाना नहीं आया। उन्होंने कहा कि सत्ता में आकर जनता की सेवा करने के बजाय प्रेम कुमार धूमल उन्हें फंसाने में लगे रहे। मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने शुक्रवार को जोगिंद्रनगर विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत पंडोल, भडयाड़ा, मच्छयाल व हारगुनैण के गलू में कांग्रेस प्रत्याशी प्रतिभा सिंह के पक्ष में चुनावी सभाओं को संबोधित करते हुए कहा कि प्रेम कुमार धूमल ने सत्ता में रहते सदा बदले की राजनीति की व उन्हें किसी न किसी झूठे मामले में फंसाने का असफल प्रयास किया। वीरभद्र सिंह ने कहा कि आज धूमल हर कहीं अपने भाषण में एक ही बात करते हैं कि केंद्र में मोदी सरकार आते ही प्रदेश सरकार को बर्खास्त कर दिया जाएगा, लेकिन धूमल को यह नहीं पता कि सरकार की अवधि संविधान अनुसार तय है। वीरभद्र सिंह ने कहा कि संविधान की रक्षा व प्रदेश से भ्रष्टाचार मिटाने के लिए वह कृतसकंल्प हैं तथा उसके आगे आने वाली हर रुकावट का मजबूती से सामना करेंगे। उन्होंने कहा कि कि केंद्र की यूपीए सरकार द्वारा शुरू की गई रोजगारोन्मुखी मनरेगा योजना से लोगों की आर्थिक स्थिति सुदृढ़ हुई है व ग्रामीण क्षेत्रों में खुशहाली आई है। इसके अतिरिक्त गरीबी रेखा से नीचे रहने वालों के लिए सस्ता राशन, स्कूली बच्चों के लिए मुफ्त वर्दी व किताबें, राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के तहत मिलने वाली निःशुल्क स्वास्थ्य सुविधाएं आदि केंद्र की यूपीए सरकार की उपलब्धियां हैं, जिनके बल पर केंद्र में एक बार फिर से कांग्रेस सत्तासीन होगी। वीरभद्र सिंह ने लोगों से अपील की है कि वे कांग्रेस प्रत्याशी प्रतिभा सिंह के पक्ष में मतदान करके केंद्र में एक बार फिर यूपीए सरकार बनाने मे सहयोग करें। इस अवसर पर जोगिंद्रनगर के पूर्व विधायक ठाकुर सुरेंद्र पाल, मंडी जिला कांग्रेस अध्यक्ष पूर्ण चंद ठाकुर व ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष जीवन ठाकुर ने भी चुनावी सभाओं को संबोधित किया।

Share

About The Author

Related posts