October 17, 2017

व्यय पर्यवेक्षक पी देवाराज ने दी जानकारी

DSC_5424

नाहन 26 अप्रैल-लोकसभा चुनाव लड रहे प्रत्याशियों को चुनाव में व्यय राशि के स्त्रोत की जानकारी निर्वाचन आयोग को देनी होगी तथा प्रत्याशियों को प्रतिदिन होने वाले व्यय का हिसाब निर्धारित रजिस्टर में दर्ज करना होगा। यह जानकारी व्यय पर्यवेक्षक भारत निर्वाचन आयोग पी देवाराज ने आज यहां सिरमौर जिला में चुनाव व्यय पर निगरानी रखने के लिए नियुक्त अधिकारियों के साथ आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी। उन्होने बताया कि प्रत्याशियों द्वारा 20 हजार रूपये से अधिक का भुगतान केवल चैक द्वारा ही किया जा सकता है, जिसके लिए उनका बैंक खाता होना अनिवार्य है। उन्होने जानकारी दी कि पार्टी द्वारा किए गए व्यय को प्रत्याशी के खाते में नहीं जोडा जाएगा, लेकिन उस खर्चे का हिसाब भी प्रत्याशी को रखना होगा।  देवाराज ने बताया कि चुनाव आयोग द्वारा प्रत्येक प्रत्याशी को व्यय विवरण रखने के लिए तीन प्रकार के रजिस्टर जारी किए गए हैं, जिन पर उन्हे प्रतिदिन के चुनावी खर्चे का हिसाब रखना होता है। उन्होने बताया कि प्रत्याशी चुनाव में निर्वाचन आयोग द्वारा निर्धारित सीमा 70 लाख रूपये तक ही व्यय कर सकता है। उन्होने जानकारी दी कि चुनाव में व्यय पर कडी निगरानी रखने के लिए प्रत्येक विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के लिए चुनाव आयोग ने सहायक व्यय पर्यवेक्षकों की भी तैनाती की गई है। इससे पहले जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त सिरमौर विकास लाबरू ने जिला में चुनाव हेतू किए गए प्रबन्धो की विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि जिला के पांच विधानसभा क्षेत्रों में कुल 530 मतदान केन्द्र स्थापित किए गए है जिसमें 84 संवेदनशील, 40 अति संवेदनशील तथा 5 क्रिटीकल तथा 48 शैडो मतदान केन्द्रो की भी पहचान की गई है। उन्होने बताया कि इन मतदान केन्द्रों में स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव करवाने के लिए व्यापक सुरक्षा प्रबन्ध किए गए है तथा इन मतदान केन्द्रो की वीडियो रिकार्डिग करवानी भी सुनिश्चित की जाएगी। उन्होने बताया कि मतदाताओं को मतदान के समय बेहतर सुविधाएं मिले इसके लिए प्रत्येक विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में मॉडल पोलिंग स्टेशन स्थापित किए जाएंगें। विकास लाबरू ने बताया कि जिला की पांचो विधानसभा क्षेत्रों में चुनाव पर कडी नजर रखने के लिए वीडियो रिकार्डिग, वीडियो विविंग, लेखा टीम, स्टेटिक सर्विलांस टीम तथा फ लांईग स्कवेड टीमों का गठन किया गया है। इस दौरान बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त मनमोहन शर्मा सहित जिला में चुनावी खर्चे पर निगरानी हेतु तैनात सहायक व्यय पर्यवेक्षकों सहित चुनाव से जुडे अन्य अधिकारियों ने भी भाग लिया।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *