Header ad
Header ad
Header ad

वन पर्यावरण को प्रदूषण मुक्त बनाने में निभाते हैं अहम भूमिका : राजेश धर्मा

31 जुलाई बिलासपुर : वन जहां पर्यावरण को प्रदूषण मुक्त बनाने में अहम भूमिका निभाते हैं वहीं आॅक्सीजन प्रदान कर मानव को नव जीवन भी प्रदान करते हैं। यह जानकारी मुख्य संसदीय सचिव (वन) श्री राजेश धर्माणी ने घुमारवीं विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत पनोह पंचायत की राउपा के प्रांगण में वन विभाग द्वारा आयोजित 64वें मंडल स्तरीय वन महोत्सव का शुभारम्भ करने के उपरांत जनसभा को संबोधित करते हुए दी। उन्होंने बताया कि हमें पौधों को लगाने तक ही सीमित नहीं रहना चाहिए बल्कि इनका लगभग चार-पांच साल तक पूरी तरह से परवरिश कर एक पेड़ के रूप में तैयार करना चाहिए। उन्होंने कहा कि वन जहां वर्षा लाने में सहायक होते हैं वहीं वनों से हमें पशुओं के लिए चारा, इमारती लकड़ी तथा कई प्रकार की जड़ी- बूटिया भी प्राप्त होती है।
उन्होंने लोगों का आहवान किया कि प्रत्येक व्यक्ति को अपने घर के आस-पास खाली पड़ी भूमि पर औषधीय तथा विभिन्न किस्मों के फलदार पौधे लगाने चाहिए। उन्होंने कहा कि इससे जहां वर्ष के 12 महीने विभिन्न किस्म के फल उपलब्ध होंगे वहीं इस कार्य को बड़े पैमाने पर करने से आर्थिक स्थिति को भी बेहतर बनाया जा सकता है।उन्होंने बताया कि वर्ष 2008 में प्रदेश में सांझा संजीवनी योजना शुरू की गई थी तथा इस योजना के तहत प्रदेश में अधिक से अधिक औषधीय व फलदार पौंधे लगाने पर जोर दिया गया है। उन्होंने बताया कि बिलासपुर वन मंडल में इस वर्ष 505351 पौधे जिले की विभिन्न नर्सरियों में तैयार किए गए हैं जिनमें 290827 औषधीय व फलदार पौधे हैंै। श्री धर्माणी ने बताया कि अपना वन अपना धन योजना के अंतर्गत जिला में वन विभाग द्वारा गत वर्ष 49,719 औषधीय तथा अन्य प्रजातियों के पौधों 456 लोगों को उपलब्ध करवाए गए। उन्होंने बताया कि वन मंडल बिलासपुर के तहत लैंटना झाड़ी के उन्मूलन के लिए एक विशेष कट रूट विधि अपनाई जा रही है जिसमें गत वर्ष 244 हैक्टेयर भूमि पर लैटाना झाड़ी को हटाकर लोगों की आवश्यकता अनुसार पौध प्रजातियों का रोपण किया गया है।
उन्होंने बताया कि क्षेत्र में सभी प्रकार के विकास के कार्यों को चरणबद्ध ढंग से किया रहा है तथा आने वाले समय में घुमारवीं विधानसभा चुनाव क्षेत्र एक आदर्श चुनाव क्षेत्र के रूप में उभरकरसामने आएगा। इस अवसर पर मुख्य संसदीय सचिव श्री राजेश धर्माणी ने राउपा पनोह के खेल के मैदान में अर्जुन औषधीय पौधा भी रोपित किया।इस अवसर पर सदर चुनाव क्षेत्र के पूर्व विधायक श्री तिलक राज शर्मा ने भी जनसभा को संबेाधित किया।उन्होंने लोगों से अधिक से अधिक फलदार तथा औषधीय पौधेे लगाने का आहवान किया।
वन अरण्यपाल बिलासपुर श्री अनिल ठाकुर ने भी विभाग द्वारा वनों के संबर्द्धन तथा विकास हेतू चलाई जा रही गतिविधियों की विस्तार से जानकारी दी। वन मंडलाधिकारी डी0आर0 कौशल ने भी लोगों से आहवान किया कि वे वनों की वहूमूल्य सम्पदा को बचाने के लिए विभाग का सहयोग दें ताकि बिलासपुर जिला को हरा-भरा, खुशहाल तथा सम्पन्न बनाया जा सके।इससे पहले मुख्य संसदीय सचिव श्री राजेश धर्माणी ने फटोह पंचायत के अंतर्गत गांव फटोह में विकास खंड झंडूता द्वारा आयोजित वाटरशैड विकास एवं जागरूकता कार्यक्रम की अध्यक्षता की।इस अवसर पर उन्होंने विभाग की ओर से लीची, नींबू, अनार तथा गलगल के फलदार पौधों का लोगों को निःशुल्क वितरण किया।इस अवसर पर उन्होंने गांव फटोह में लीची का पौधा भी रोपित किया।इस अवसर पर ब्लाक कांग्रेस कमेटी घुमारवीं के अध्यक्ष श्रीनंद लाल शर्मा, क्षेत्रीय प्रोजैक्ट निदेशक मध्य हिमालयन जलागम विकास परियोजना बिलासपुर समीर रसतोगी , एक्शियन विद्युत विभाग घुमारवीं अश्वनी कुमार खनोटिया, एसडीओपीडब्ल्यूडी ए0आर0 कालिया, एसडीओे आईपीएच देव राज चैहान, कार्यकारी विकास खंड अधिकारी झंडूता जीत राम, पडयालग पंचायत के प्रधान जागीर सिंह मैहता, फटोह पंचायत के उप प्रधान मुंशी राम शर्मा केअतिरिक्त पंचायती राज संसथाओं के सदस्य, विभिन्न विभागों के अधिकारी तथा अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे।

Share

About The Author

Related posts

Leave a Reply

 Click this button or press Ctrl+G to toggle between multilang and English

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please Solve it * *