Header ad
Header ad
Header ad

लोक लेखा समिति ने लिया कार्यों की प्रगति का जायजा

धर्मशाला, 09 अक्तूबर: हिमाचल प्रदेश विधानसभा की लोक लेखा समिति के अध्यक्ष
विधायक रविन्द्र सिंह रवि ने कांगड़ा जिला में सेवारत सभी विभागों के
अधिकारियों को विभिन्न विकास परियोजनाओं के कार्यों की प्रगति का नियमित
अनुश्रवण व निरीक्षण सुनिश्चित बनाने के निर्देश दिए हैं। वह आज यहां लोक लेखा
समिति की बैठक में उपस्थित अधिकारियों एवं कर्मचारियों को संबोधित कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि अधिकारियों द्वारा कार्यों की प्रगति के अनुश्रवण एवं नियमित
निरीक्षण के माध्यम से कार्यों की गुणवत्ता सुनिश्चित बना कर सरकार द्वारा दी
गई धनराशि का सदुपयोग सुनिश्चित बनाया जा सकता है।
     रविन्द्र रवि ने कहा कि लोक लेखा समिति का कार्य सरकार द्वारा प्रदान की
गई धनराशि के उपयोग पर नजर रखना होता है तथा समिति यह सुनिश्चित बनाती है कि
लेखा परीक्षण में लगाई गई आपत्तियों का शीघ्र निपटारा हो ताकि विकास कार्यों
में धन की कमी आड़े न आए। उन्होंने अधिकारियों को लेखा परीक्षण की आपत्तियों का
समयबद्ध निपटारा सुनिश्चित बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि महालेखाकार
द्वारा जारी रिपोर्ट को ध्यान से पढ़ा जाए। उन्होंने कहा कि रिपोर्ट इन्टरनेट
पर भी उपलब्ध होती है व इन्टरनेट का उपयोग कर इसके बारे में पूरी जानकारी
प्राप्त की जानी चाहिए।
     उन्होंने आबकारी एवं कराधान, परिवहन, राजस्व, वन और विद्युत् इत्यादि
जैसे राजस्व अर्जन वाले विभागों को धन वसूली से संबंधित लंबित मामलों के
समयबद्ध निपटारे के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बस समय सारिणी निर्धारित
करते समय संबंधित अधिकारी एचआरटीसी को प्राथमिकता दें। निजी बसों के परमिट
समय-समय पर चैक किए जाएं ताकि कोई भी प्राइवेट ऑपरेटर अनियमितता न बरते।
     रविन्द्र रवि और समिति ने संबंधित विभागों को जिले में सड़कों व पुलों की
मरम्मत व जीर्णोद्धार के कार्यों को प्राथमिकता पर करने के निर्देश दिए।
उन्होंने जिले में पर्यटकों की अधिक आमद वाले स्थलों को जोड़ने वाली सड़कों को
प्राथमिकता पर सुधारने के निर्देश दिए। उन्होंने जिले में मल निकासी
परियोजनाओं निर्माण के काम को निर्धारित समय में पूरा करने के निर्देश दिए।
बैठक में यह अवगत करवाया गया कि कांगड़ा के लिए बनने वाली मल निकासी योजना का
कार्य 31 दिसम्बर, 2016 तक पूरा कर लिया जाएगा।
     उन्होंने लोक निर्माण और वन विभाग के अधिकारियों को वन स्वीकृतियों के
विलम्ब के कारण लंबित मामलों के शीघ्र निपटारे के लिए आवश्यकता अनुसार संयुक्त
निरीक्षण की प्रक्रिया सुनिश्चित बनाने के निर्देश दिए।
     उन्होंने उपायुक्त कांगड़ा को लोक निर्माण विभाग व अन्य संबंधित विभागों
के अधिकारियों के साथ जिले के विभिन्न भागों में रेलवे लाईन के कारण साथ लगती
सड़कों और पुलों की मरम्मत कार्य व निर्माण में विलम्ब होने की समस्या के
समाधान के लिए बैठक करने व रेलवे विभाग के साथ मामला उठाने के निर्देश दिए।
     बैठक में पटवारियों द्वारा जमीन की कीमत का मूल्यांकन कम करने के मुद्दे
पर भी चर्चा की गई तथा समिति ने तहसीलदार व नायब तहसीलदार को पिछली किन्हीं दो
रजिस्ट्री को चैक कर इस पर नजर रखे और इसके दुरूस्तीकरण सुनिश्चित करने के
निर्देश दिए।
     रविन्द्र रवि ने जिला में स्वच्छता अभियान को व्यापक तौर पर कार्यान्वित
करने पर बल दिया। बैठक में यह भी अवगत करवाया गया कि कांगड़ा जिला में ठोस कचरा
प्रबंधन परियोजना कार्यान्वित की जा रही है व जिले की 90 पंचायतों को परियोजना
के अंतर्गत शामिल किया गया है।
     उपायुक्त कांगड़ा रितेश चौहान ने समिति का स्वागत करते हुए समिति को
विश्वास दिलाया कि बैठक में प्राप्त निर्देशों एवं सुझावों को अमल में लाया
जाएगा।
     इससे पूर्व, समिति ने पालमपुर में उपमण्डल स्तरीय अधिकारियों के साथ बैठक
कर विकास कार्यों का जायजा लिया तथा क्षेत्र में सफाई व्यवस्था सुनिश्चित
बनाने के लिए विभिन्न उपाय करने सहित अन्य आवश्यक निर्देश दिए। उपमण्डलाधिकारी
पालमपुर अजीत भारद्वाज ने समिति का स्वागत किया। इस अवसर पर नगर परिषद पालमपुर
के अध्यक्ष बलवंत ठाकुर सहित विभिन्न विभागो के अधिकारी उपस्थित थे।
     बैठक में लोक लेखा समिति के सदस्य विधायक अजय महाजन, पवन काजल, विजय
अग्निहोत्री, विरेन्द्र कंवर, केएल ठाकुर तथा बलदेव तोमर, पुलिस अधीक्षक
अभिषेक दुल्लर, अतिरिक्त उपायुक्त सुदेश मोख्टा, जिले के सभी उपमण्डलाधिकारी व
विभागों के अधिकारी और कर्मचारी उपस्थित थे।
Share

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please Solve it * *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)