October 17, 2017

योजना समिति की बैठक में अधिकारियों की क्लास

news8
चंबा, 5 जून-पांगी में मनरेगा के तहत पूरे होने वाले विकास कार्यो पर लगी ब्रेक का वनमंत्री ठाकुर सिंह भरमौरी ने कड़ा संज्ञान लिया है। बुधवार को बचत भवन में आयोजित योजना समिति की बैठक में भरमौरी ने दूरदराज के इलाकों में मनरेगा कार्यो पर ब्रेक को लेकर अधिकारियों पर खूब भड़ास निकाली। उन्होंने सीधे तौर पर अधिकारियों को जिम्मेदार ठहराते हुए उनके खिलाफ कार्रवाई की भी चेतावनी दी है। भरमौरी ने मनरेगा विकास कार्यो में ब्रेक के लिए सीधे डीआरडीए को जिम्मेदार ठहरा दिया है। जबकि बैठक में ही मौजूद डीआरडीए अधिकारी का जवाब था कि जब तक घाटी समेत अन्य इलाकों से विकास कार्य करवाने के लिए मांग नहीं आएगी, तब तक वे मस्टररोल जारी नहीं कर सकते हैं। यह पूर्व केंद्र सरकार ने नियम बना रखा है। लेकिन वनमंत्री डीआरडीए अधिकारी के इस जवाब से संतुष्ट नहीं हुए और उन्होंने अधिकारी को यह तक कह दिया कि मांग आए या न आए, विभाग को मनरेगा के मस्टररोल जारी करने चाहिए। उन्होंने इसी मुद्दे पर उपायुक्त संदीप कदम को भी नहीं बख्शा। बैठक में वनमंत्री ठाकुर सिंह भरमौरी ने कहा कि डीआरडीए विभाग जिला प्रशासन को गुमराह कर रहा है और प्रशासन कार्रवाई की जगह गलतियों पर पर्दा डालने की कोशिश में लगा है। उपायुक्त संदीप कदम भी इस बात को दोहरा रहे थे कि प्रशासन या विभाग नियम से बाहर जाकर काम नहीं कर सकता है। खूब हंगामे से भरी इस बैठक में वनमंत्री ने मौजूद अधिकारियों की जमकर क्लास लगाई। जो अधिकारी बैठक में उपस्थित नहीं हुए थे उनकी रिपोर्ट बनाकर मुख्य सचिव को भेजने की भी बात उन्होंने कही। बकौल, वनमंत्री ठाकुर सिंह भरमौरी जिला में विकास की रूपरेखा तय करने के लिए आयोजित होने वाली बैठक से नदारद रहने वाले अधिकारियों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। उनके खिलाफ तत्काल कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *