October 20, 2017

’मुख्यमंत्री ने किया गौड़ा में 132 के.वी. विद्युत उप केन्द्र का लोकार्पण’

मुख्यमंत्री श्री वीरभद्र सिंह ने आज सोलन जिले के कंडाघाट तहसील के गौड़ा में
20 करोड़ रुपये की लागत के 132 के.वी. विद्युत उप केन्द्र का लोकार्पण किया।
उन्होंने कहा कि इससे कसौली विधानसभा क्षेत्र के 114 गांव लाभान्वित होंगे
और सोलन विधानसभा क्षेत्र की पेयजल आपूर्ति योजनाओं में भी सुधार
आएगा। इससे राजगढ़ से चाढ़ना तक के क्षेत्र के 1.20 लाख जनसंख्या को निर्बाध
विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित होगी।
गौड़ा में एक जनसभा को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इस उप केन्द्र
के आरम्भ होने से क्षेत्र में कम वोल्टेज की समस्या का निदान होगा। उन्होंने
कहा कि पूर्व सरकार के कार्यकाल के दौरान इस परियोजना के आरम्भ होने में
हुई अनावश्यक देरी की जांच की जाएगी। उन्होंने कहा कि पूर्व सरकार के एक मंत्री
ने अधूरी परियोजना का ही उद्घाटन कर दिया। इस उप केन्द्र का निर्माण कार्य
जून, 2010 में आरम्भ किया गया था, जबकि इसके पश्चात् कार्य में कोई प्रगति
नहीं हुई। केवल, राजनीतिक लाभ लेने के लिए पूर्व सरकार के एक मंत्री ने इस
अधूरी परियोजना का उद्घाटन किया।
श्री वीरभद्र सिंह ने कहा कि वर्तमान सरकार के सत्तासीन होने पर इस उप केन्द्र के
कार्य को पूरा करने के लिए गंभीर प्रयास किए गए, जिससे लोगों की पेयजल एवं
ऊर्जा सम्बन्धी आवश्यकताएं पूरी हो सकें। उन्होंने कहा कि प्रदेश की सभी
बस्तियासें को बिजली सुविधा प्रदान करने के लिए प्रभावी प्रयास किए जा रहे हैं।
वर्तमान प्रदेश सरकार के कार्यकाल में प्रदेश का अभूतपूर्वक विकास सुनिश्चित हुआ
है और पूर्व सरकार के दौरान बंद सड़कों, स्कूलों व स्वास्थ्य संस्थानों तथा
लोगों से जुड़े विकास कार्यो को पुनः आरम्भ किया गया है। उन्होंने कहा कि
वर्तमान सरकार ने पूर्व सरकार द्वारा डी-नोटिफाई किए गए 149 स्कूलों को पुनः
आरम्भ आरम्भ किया है।
उन्होंने कहा कि अप्रसंगिक बयानबाजी और दुष्प्रचार से प्रदेश का विकास नहीं
किया जा सकता, बल्कि इसके लिए कठिन परिश्रम करना पड़ता है। किसी भी विकास
परियोजना का कार्य योजनाबद्ध तरीके से किया जा सकता है। अधूरी योजनाओं का
श्रेय नहीं लिया जा सकता। उन्होंने कहा कि विपक्ष ने विधानसभा सत्र की कार्यवाही
का हर बार बहिष्कार किया। इस प्रकार वे विधानसभा में लोगों के हितों से
जुड़े मामलों में सकारात्मक चर्चा से भागते रहे।
श्री वीरभद्र सिंह ने कहा कि राज्य अल्पसंख्यक वित्त एवं विकास निगम को लोगों के
सामाजिक एवं आर्थिक उत्थान के लिए आरम्भ की गई विभिन्न योजनाओं के लिए
नेशनल हैंडिकेप्ड एण्ड डवल्पमेंट कारपोरेशन द्वारा राष्ट्र पुरस्कार प्रदान किया गया
है, जिसके लिए उन्होंने निगम को बधाई दी।
ऊर्जा मंत्री श्री सुजान सिंह पठानिया, समाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री श्री धनीराम
शांडिल, राज्य योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष श्री जी.आर. मुसाफिर, जिला कांग्रेस
कमेटी के अध्यक्ष श्री राहुल ठाकुर, प्रदेश कांग्रेस समिति के सचिव श्री विनोद
सुल्तानपुरी, हिमाचल प्रदेश पर्यटन विकास निगम के निदेशक श्री सुरेन्द्र सेठी, मंडी
समिति, सोलन के अध्यक्ष श्री रमेश ठाकुर, राज्य पर्यावरण निंयत्रण बोर्ड के सदस्य
श्री अरविंद गुप्ता, खंड कांग्रेस समिति सोलन के अध्यक्ष श्री बलदेव ठाकुर, हिमाचल
प्रदेश राज्य विद्युत बोर्ड के प्रबन्ध निदेशक श्री पी.सी. नेगी, अतिरक्त उपायुक्त श्री
सी.पी. वर्मा, पुलिस अधीक्षक श्री रमेश छाजटा तथा अन्य गणमान्य व्यक्ति भी इस
अवसर पर उपस्थित थे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *