Header ad
Header ad
Header ad

मुख्यमंत्री द्वारा हरिदर्शन झूला पुल का लोर्कापण

मुख्यमंत्री श्री वीरभद्र सिंह ने आज सोलन जिला के नालागढ़ के समीप मंडयारपुर में सैनी परिवार द्वारा 84.60 लाख रुपये की लागत से निर्मित हरिदर्शन झूला पुल का लोकार्पण किया। उन्होंने कहा कि यह पुल नालागढ़ के पूर्व विधायक स्वर्गीय श्री हरिनारायण सिंह सैनी की ड्रीम परियेाजना थी और इस पुल का लोकार्पण करना उनका नैतिक दायित्व था।
श्री वीरभद्र सिंह ने कहा कि नालागढ़ क्षेत्र के विकास में श्री सैनी का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। उन्होंने क्षेत्र के लोगों के विकास व कल्याण के लिए अपनी और से खर्चा करने में गुरेज़ नहीं किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश में बहुत से धनी व साधन सम्पन्न लोग हैं और उन्हें गरीब व जरूरतमंद लोगों की सहायता के लिए आगे आना चाहिए।
मुख्यमंत्री ने स्वर्गीय श्री हरिनारायण सिंह सैनी के भाई श्री नारायण सिंह सैनी और उनके परिवार के सदस्यों का असंख्य भाजपा कार्यकर्ताओं सहित कांग्रेस पार्टी में शामिल होने पर स्वागत किया। उन्होंने कहा कि सैनी परिवार के प्रत्येक सदस्य और उनके समर्थकों को कांग्रेस में पूरा आदर सम्मान दिया मिलेगा। उन्होंने कहा कि स्वर्गीय श्री सैनी की ईच्छानुरूप नालागढ़ क्षेत्र का संपूर्ण विकास सुनिश्चित बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि झूलापुल से निकोवाल होकर ननोवाल तक सड़क का निर्माण किया जाएगा जिससे नालागढ़ के 7-8 गांव के लोग लाभान्वित होंगे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि नालागढ़ क्षेत्र में स्कूल, काॅलेज आरम्भ करने व स्तरोन्नत करने तथा अन्य विकासात्मक कार्य सम्बन्धी सभी मांगों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार किया जाएगा।
श्री वीरभद्र सिंह ने कहा कि उन्हें पंडित जवाहर लाल नेहरू से लेकर डा. मनमोहन सिंह तक देश के सभी प्रधान मंत्रियों के साथ कार्य करने का सुअवसर प्राप्त हुआ है और वे रिकार्ड 6 बार मुख्यमंत्री चुने जाने पर हमेशा ही प्रदेश के लोगों के ऋणि रहेंगे। उन्होंने कहा कि आज देश में अनेक राजनीतिक दल हैं और वे सभी का सम्मान करते हैं यद्यपि इन राजनीतिक दलों की भिन्न-भिन्न विचारधारा और नीतियां हैं। उन्होंने कहा कि वह और उनकी पार्टी हमेशा ही ऐसी विघटनकारी ताकतों के खिलाफ लड़ाई लड़ती रही है जो राजनीतिक लाभ के लिए धर्म, जाति, नस्ल और क्षेत्रवाद के नाम पर लोगों को बहकाने की कोशिश करते रहे हैं। ऐसे दल कभी भी देश के शुभचिंतक नहीं हो सकते।
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे देश में विभिन्न धर्मों एवं समुदायों के लोग आपस में मिलजुल कर रहते हैं और अखंडता में एकता हमारे देश की पहचान है। उन्होंने कहा कि प्राचीन समय से ही भारत शांति और सदभावना के सिद्धांत पर आगे
बढ़ता रहा है तथा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, पंडित जवाहरलाल नेहरू व अन्य सभी प्रधान मंत्रियों ने इस विचारधारा का अनुसरण किया है। उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि वे संकुचित सोच के साथ देश का विभाजन करने वाले इन सिद्धातों के साथ कभी समझौता न करें।
श्री वीरभद्र सिंह ने कहा कि हिमाचल प्रदेश स्वतंत्रता के मात्र नौ महीने के उपरांत 15 अप्रैल 1948 को अलग राज्य के रूप में भारत के मानचित्र पर उभरा। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय इंदिरा गांधी ने 25 जनवरी 1971 को हिमाचल प्रदेश को पूर्ण राज्यत्व का दर्जा प्रदान किया। प्रदेश ने विकास के क्षेत्र में असंख्य मील पत्थर स्थापित किये हैं और आज प्रदेश विकास के मामले में देश के अग्रणी राज्यों के साथ खड़ा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के लोग विकास के लिए हमेशा ही कांग्रेस पार्टी को याद रखेंगे।
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री डा. कर्नल धनीराम शांडिल ने कहा कि नालागढ़ क्षेत्र में रेल सुविधा उपलबध करवाने के लिए प्रयास किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि नालागढ़ व पंजाब से लगते अन्य क्षेत्रों में छठी से बारहवीं कक्षा तक पंजाबी भाषा को अनिवार्य करने की मांग का वे भी समर्थन करते हैं।
हिमाचल प्रदेश भवन एवं अन्य निर्माण कामगार कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष बावा हरदीप सिंह ने सैनी परिवार का कांग्रेस में शामिल होने पर स्वागत किया। उन्होंने धार पंचायत की राजकीय उच्च पाठशाला को जमा दो करने और चिकनी पुल निर्माण कार्य में तेजी लाने की भी मांग की, जिसके लिये। उन्होंने स्वारघाट -नालागढ़ सड़क का कार्य भी शीघ्र पूरा करने की मांग की।
पूर्व विधायक श्री लखविन्द्र सिंह राणा ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री वीरभद्र सिंह के गतिशील नेतृत्व में प्रदेश में अभूतपूर्व विकास हुआ है। उन्होंने कहा कि सैनी परिवार के कांग्रेस में शामिल होने से नालागढ़ क्षेत्र में कांग्रेस पार्टी और सुदृढ़ हुई है।
ट्रक आॅपरेटर संघ दभोटा के अध्यक्ष सरदार गुरमुख सिंह ने कहा कि दभोटा क्षेत्र को औद्योगिक क्षेत्र के रूप में विकसित किया जाए क्योंकि यहां पर इसके लिए पर्याप्त मात्रा में भूमि उपलब्ध है। इसके ट्रक यूनियन भी लाभान्वित होगी।
जिला कांग्रेस समिति के अध्यक्ष श्री राहुल सिंह ठाकुर ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया।
स्वर्गीय श्री हरिनारायण सिंह सैनी के भाई श्री अवतार सिंह सैनी ने कहा कि उनके परिवार को भाजपा से दुःखों के अलावा कुछ भी नहीं मिला। उन्होंने कहा कि स्वर्गीय सैनी की ड्रीम परियोजना झूला पुल के निर्माण के लिए भी पूर्व सरकार ने कुछ नहीं किया।

स्वर्गीय श्री हरिनारायण सिंह सैनी की धर्मपत्नी श्रीमती बीबी गुरनाम कौर ने कहा कि वे झूला पुल का उद्घाटन करने के लिए मुख्यमंत्री श्री वीरभद्र सिंह के आभारी हंै। झूला पुल का निर्माण उनके पति की अंतिम इच्छा थी।
स्वास्थ्य मंत्री श्री कौल सिंह ठाकुर, उद्योग तथा सूचना एवं जनसम्पर्क मंत्री श्री मुकेश अग्निहोत्री, पूर्व विधायक श्री लज्जा राम तथा मेजर कृष्णा मोहिनी, नगर पंचायत नालागढ़ की उपाध्यक्ष श्रीमती अलका वर्मा, एचपीएसआईडीसी के उपाध्यक्ष श्री अतुल शर्मा, लघु बचत योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष श्री प्रकाश करड़, अर्की ब्लाक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री संजय अवस्थी, एचपीटीडीसी निदेशक मंडल के सदस्य श्री सुरेन्द्र सेठी, कृषि मंडी समिति सोलन के अध्यक्ष श्री रमेश ठाकुर, प्रदेश कांग्रेस समिति सदस्य श्री रमेश चैहान, जिला परिषद सदस्य श्री परमजीत सिंह पम्मी, प्रदेश कांग्रेस समिति के महासचिव श्री विनोद सुल्तानपुरी, ब्लाक कांग्रेस समिति नालागढ़ के महासचिव श्री शिव गोपाल, मुख्यमंत्री के सलाहकार श्री टी.जी. नेगी, उपायुक्त सोलन श्री मदन चैहान, एस.पी. बददी श्री एस. अरूल कुमार, उद्योग विभाग के निदेशक श्री मोहन चैहान, वरिष्ठ अधिकारी एवं अन्य गणमान्य व्यक्ति भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

-0-

Share

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please Solve it * *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)