Header ad
Header ad
Header ad

प्रैस क्लब ऊना के कार्यक्रम में बेबाक बोले शांता कुमार, नरेंद्र मोदी देश की पहली पंसद बने है: शांता- चुनाव में काले धन व बेईमानी पर लगे रोक, कांग्रेस ने नपुंसक बना दिया है देश

ऊना, 29 जुलाई (राजीव भनोट) प्रैस क्लब ऊना द्वारा आयोजित प्रैस से मिलीए कार्यक्रम में भाजपा के दिगगज नेता शांता कुमार ने बेबाकी के साथ अपनी बात रखी और उन्होंने ने भी नरेंद्र मोदी के नाम पर सहमति जताते हुए अपनी व्यक्तिराय भी साफ कर दी है। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी देश के सशक्त, अनुभवी व लोकप्रिय नेता हैं और देश की जनता में सबसे प्रभावशाली नेता के रूप में उभरे है उनका नाम प्रधानमंत्री पद के लिए पार्टी से पहले जनता की जुबां पर आया है, जो भाजपा के लिए प्रसन्नता की बात है। उन्होंने कहा कि लालकृष्ण अडवाणी अनुभवी व योगय नेता है, ऐसे नेता भाजपा में है यह गर्व की बात है। शांता कुमार ने कहा कि जनता केंद्र में बदलाव लाने के मूड में है और यूपीए का एकमात्र सशक्त विकल्प एनडीए है। आने वाले लोकसभा चुनाव में भाजपा समर्थक एनडीए की सरकार सत्तासीन होगी। उन्होंने कहा कि देश को पड़ोसी देशों से चुनौती मिल रही है और पाकिस्तान भारतीय सैनिक का सिर कलम करता है और सरकार चुप रहती है, चीन जब चाहे हमारी सीमा में आकर दन दनाता है और सरकार चुप रहती है, जिस से साफ है कि युपीए सरकार ने देश को नंपुसक बना दिया है और इसके लिए कांग्रेस दोषी है। उन्होंने कहा कि देश महाभ्रष्ट्र देशों में शामिल हो रहा है। भारत की तस्वीर भुखे, भ्रष्ट्र व कमजोर भारत की बनती जा रही है। उन्होंने कहा कि देश को ऐसे समय में मजबुत व ईमानदार नेतृत्व की जरूरत है, जो देश को इन समस्याओं से बाहर निकाल मजबुत भारत की नींव रख सके। उन्होंने कहा कि केंद्र की यूपीए सरकार आजादी के बाद अब तक की सबसे भ्रष्ट्र व कमजोर सरकार साबित हुई है। उन्होंने कहा कि देश की चुनाव की प्रणाली में बदलाव होना चाहिए और काले धन व बेईमानी से मुक्त चुनाव प्रणाली होने पर ही देश में सुधार हो सकता है।
फूड सिक्योरिटिी नही ब्लकि कांग्रेस वोट सिक्योरिटी बिल है: शांता
पूर्व मुख्यमंत्री एवं राज्यसभा सांसद शांता कुमार ने कहा कि कांग्रेस के कमजोर और भ्रष्ट शासन में देश में हर चीज बिकाऊ हो गई है। फूड सिक्योरिटी बिल पर तीखी प्रतिक्रिया करते हुए राज्यसभा सांसद ने कहा कि इस बिल को लाने के पीछे कांग्रेस की नीयत ठीक नहीं है। कहा कि यूपीए फूड नहीं अपितु वोट सिक्योरिटी बिल लाई है, ताकि चुनावी वैतरणी पार कर सके। उन्होंने कहा कि इससे पहले भाजपा सरकार 2002 में अंतोदय योजना लांच करके खाद्य सुरक्षा बिल ला चुकी है। लेकिन अब कांग्रेस नए बिल में देश की 75 फीसदी आबादी को इसके अधीन लाने की बात कर रही है, जो कतई संभव ही नहीं है। उन्होंने सवाल किया कि इस बिल के आने के बाद किसान को खेत में जाकर काम करने की जरूरत ही क्या रह जाएगी। इसके पश्चात देश का डिलिवरी सिस्टम इतना भ्रष्ट है कि केंद्र से जारी किए गए राशन का महज 40 फीसदी ही जरूरतमंदों तक पहुंच पाता है। उन्होंने कहा कि जब देश में 14 हजार करोड़ की मिड डे मील योजना को सफलता से लागु नही किया जा रहा है, तो 1 लाख 25 करोड़ की योजना को यूपीए कैसे लागु कर पाएगा। उन्होंने कहा कि भाजपा खाद्य सुरक्षा बिल का विरोध नही करेगी, ब्लकि संसद में इसको लेकर कुछ सुझाव व संशोधन जरूर पेश करेगी।

राष्ट्रपति शासन प्रणाली लागु हो भारत में: शांता

भाजपा के दिगगज नेता शांता कुमार ने एक बार पुन: देश में संसदीय प्रणाली के स्थान पर राष्ट्रपति शासन प्रणाली को लागु करने की आवाज बुलंद की है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के पद पर रहने के बाद मैं यह दावे के साथ कह सकता हुं कि भारत के लिए संसदीय प्रणाली से बेहतर राष्ट्रपति शासन प्रणाली साबित हो सकती है। उन्होंने कहा कि देश की जनता को सीधे अपना शासक चुनने का अधिकार मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि वर्तमान में चुनावी प्रणाली झूठ व काले धन से शुरू होती है। उन्होंने कहा कि देश में राष्ट्रपति शासन प्रणाली का सर्मथन अनेक नेता कर चुके है। उन्होंने कहा कि यह बेहतर संदेश है कि देश में पहली बार जनता में प्रधानमंत्री पद के दावेदार नेताओं के नाम की चर्चा हो रही है।
आरटीआई के दायरे में आना बुरी बात नही: शांता
राजनीतिक दलों द्वारा स्वयं को आरटीआई से दूर रखने की कवायद पर पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवाल के जबाव में राज्यसभा सांसद ने कहा कि यह राजनीतिक दलों की मुश्किल है कि वें हर बात को सार्वजनिक करने से परहेज करते है। उन्होंने कहा कि सभी राजनीतिक दलों को स्वयं को आरटीआई में लाने की पहल करनी चाहिए, ताकि चुनावों में काले धन का प्रभाव खत्म हो सके और जनता को पारदर्शी शासन उपलब्ध हो सके। उन्होंने कहा कि आरटीआई को आगे कर देश में चुनावी सिस्टम बदलने पर भी राजनीतिक दलों को एक साथ आकर काम करना चाहिए।
इस अवसर पर भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती, कुटलैहड़ से विधायक वीरेंद्र कंवर, प्रदेश भाजपा सह मीडिया प्रभारी हरिओम भनोट, जिला भाजपाध्यक्ष बलवीर बग्गा, सागर दत्त भारद्वाज, भाजयुमो के उपाध्यक्ष सुमित शर्मा, नवदीप कश्यप, यशपाल राणा, मनोहर लाल, शहरी इकाई अध्यक्ष पुनीत मैहन समेत कई भाजपाई मौजूद रहे।

Share

About The Author

Related posts

Leave a Reply

 Click this button or press Ctrl+G to toggle between multilang and English

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please Solve it * *