October 17, 2017

पार्वती में बहे 31 पंजाबी श्रद्धालु

r24 July कुल्लू— मणिकर्ण साहिब जा रही पंजाब के श्रद्धालुओं की बस गुरुवार शाम करीब सवा चार बजे भुंतर के सरसाड़ी के समीप अनियंत्रित होकर उफनती पार्वती नदी में समा गई, जिससे बस में सवार 54 लोगों में से 31 पानी की तेज धारा में बह गए। खबर लिखे जाने तक छह शव बरामद कर लिए गए थे, जबकि हादसे में घायल 21 सवारियों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार स्लाइडिंग प्वाइंट पर बाइक को बचाने के प्रयास में गुरुकृपा बरनाला ट्रांसपोर्ट की टूरिस्ट बस का चालक वाहन से नियंत्रण खो बैठा। अभागी बस पहाड़ी से टकराने के बाद बेहद संकरी सड़क से नीचे गहरी खाई में लुढ़क गई। बस के परखच्चे उड़ गए और पार्वती में आई बाढ़ ने 52 सीटर बस को अजगर की तरह निगल लिया। 54 सवारियों से भरी बस संख्या (पीबी-19एम, 3085) के साथ अनहोनी घटने से 31 श्रद्धालु पार्वती नदी में बह गए। पार्वती के रौद्र रूप का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि नदी में समाने के बाद बस का कहीं अता-पता नहीं चल रहा। गनीमत यह रही कि सड़क से नीचे लुढ़कने के दौरान 21 श्रद्धालु छिटक कर बाहर गिर गए, जिन्हें तुरंत रेस्क्यू करते हुए जोनल अस्पताल कुल्लू में उपचार के लिए भर्ती किया गया है। अधिकतर घायलों की हालत नाजुक बनी हुई है।  वहीं, घटनास्थल से छह लोगों के शव बरामद कर लिए गए थे। उधर, सूचना मिलते ही उपायुक्त राकेश कंवर ने मौके पर पहुंचकर राहत एवं बचाव कार्यों की कमान अपने हाथ में ले ली और पंजाब सरकार को भी जानलेवा सड़क हादसे की सूचना दे दी गई है। कुल्लू प्रशासन की ओर से फौरी राहत बांटी गई है। पुलिस, प्रशासन के साथ ही पैरामिलिट्री फोर्स, एसएसबी तथा आईटीबीपी के जवानों ने 21 घायलों को रेस्क्यू कर उन्हें एंबुलेंस के जरिए जोनल अस्पताल पहुंचाया।  कुल्लू में फायर ब्रिगेड के जवान भी मौके पर पहुंचे हुए थे।  कुल्लू के उपायुक्त राकेश कंवर ने बताया कि स्लाइडिंग प्वाइंट पर पेश आए हादसे के कारणों की तकनीकी जांच भी शुरू की गई है।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *