October 24, 2017

’पारनू में राज्य स्तरीय दो दिवसीय वालीबाल प्रतियोगिता आरम्भः ’’विद्या स्टोक्स’

सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य मंत्री विद्या स्टोक्स ने आज अर्की उपमण्डल के
दाड़लाघाट के समीप पारनू में राज्य स्तरीय दो दिवसीय वालीबाल प्रतियोगिता का
शुभारम्भ किया । बालीबाल प्रतियोगिता में 20 टीमें भाग ले रहीं है जिनमें
दिल्ली, हरियाणा, चण्डीगढ़ और हिमाचल प्रदेश के विभिन्न जिलों की टीमें
शामिल हैं। इस अवसर पर सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य मंत्री विद्या स्टोक्स ने कहा कि देश,
प्रदेश व समाज के विकास में युवा शक्ति की महत्वपूर्ण भूमिका है और यह जरूरी
है कि युवा शक्ति का उपयोग सकारात्मक दिशा में किया जाए। उन्होंने कहा कि
प्रदेश का समेकित विकास युवा शक्ति पर ही निर्भर करता है। विद्या स्टोक्स आज
अर्की उपमण्डल के दाड़लाघाट के पारनू में राज्य स्तरीय वालीबाल प्रतियोगिता के
शुभारम्भ के अवसर पर उपस्थित खिलाडि़यों एवं अन्य को सम्बोधित कर रहीं
थीं। सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि युवा शक्ति के विकास में खेलों की
भूमिका विशेष रूप से महत्वपूर्ण है और हमारी सरकार प्रदेश में सभी खेलों
को समान रूप से बढ़ावा देने के लिये प्रयासरत है। राज्य में खेल अधोसंरचना के
विकास के साथ-साथ खिलाडि़यों को बेहतर कोचिंग सुविधाएं भी उपलब्ध
करवाई जा रहीं हैं। सरकार ग्रामीण स्तर तक युवाओं को श्रेष्ठ खेल सुविधाएं
देने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि राज्य में इस वर्ष खेलांे के लिए
आधारभूत ढांचा विकसित करने पर 785 लाख रुपये से अधिक खर्च किए जा रहे हैं।
प्रदेश में एक लाख रुपये प्रति खेल मैदान की लागत से 50 खेल मैदानों का
निर्माण भी किया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने उभरते खिलाडि़यों को पर्याप्त प्रशिक्षण
सुविधाएं प्रदान करने के लिए कोच के 50 पद सृजित करने का निर्णय लिया है।
पंचायत खेल संरचना के विकास के लिए इस वर्ष युवा क्रीड़ा एवं खेल अभियान
योजना के तहत 324 ग्राम पंचायतें तथा 8 खण्ड शामिल किए गए हैं। योजना में
पंचायत स्तर पर एक लाख रुपये तथा खण्ड स्तर पर पांच लाख रुपये खर्च किये जा रहे
हैं।उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने खेल उपकरणों के लिए दी जाने वाली
राशी को दस हजार रुपये से बढ़ाकर 18 हजार कर दिया है।
विद्या स्टोक्स ने कहा कि प्रदेश सरकार ने अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में पदक
जीतने वाले हिमाचली खिलाडि़यों को सम्मान के स्वरूप नकद पुरस्कार योजना आरंभ
की है। वर्तमान प्रदेश सरकार ने उत्कृष्ट खिलाडि़यों को दिए जाने वाले नकद
पुरस्कारों की राशि को दोगुना कर दिया है। उन्होंने कहा कि सरकारी क्षेत्र में
रोज़गार के लिए खिलाडि़यों को तीन प्रतिशत आरक्षण प्रदान किया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि प्रदेश के खिलाड़ी राष्ट्रीय और अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर बेहतर
प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हाल ही में प्रदेश की दो लड़कियों ने
कब्बडी में अन्तराष्ट्रीय स्तर पर पदक हासिल किए है जो कि प्रदेश के लिए गौरव की
बात है।
उन्होंने कहा कि वालीबाल का खेल हिमाचल प्रदेश में काफी लोकप्रिय है तथा
सरकार की यह कोशिश है कि वाॅलीबाल खेल को बढ़ावा देने के लिये प्रदेश की
प्रत्येक पंचायत में वाॅलीबाल मैदानों का निर्माण किया जाए, क्योंकि वाॅलीबाल
के लिये छोटे मैदानों और कम अधोसंरचना की आवश्यकता पड़ती है।
सिंचाई एवं जनस्वास्थ्य मन्त्री ने स्थानीय लोगों की मांग पर पारनू पंचायत में
प्राथमिकता के आधार पर खेल स्टेडियम निर्मित करने का आश्वासन दिया उन्होंने
कहा कि स्टेडियम के निर्माण के लिए पूरी धन राशी उपलब्ध करवा दी
जाएगी।उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र की पेयजल समस्या भी शीघ्र हल कर दी
जाएगी।उन्होंने इस मौके पर जनससमयाएॅ भी सुनीं और समस्यायों के निराकरण
करने के अधिकारियों को निर्देश दिए।
प्रदेश कांग्रेस समिति के सदस्य तथा राज्य युवा सलाहकार बोर्ड के सदस्य संजय
अवस्थी ने क्षेत्र में हुए विकास कार्यो की जानकारी दी।
ग्राम पंचायत ’पारनू’ की प्रधान कान्ता शर्मा ने मुख्यातिथि का स्वागत
किया और उन्होंने इस अवसर पर मुख्यातिथि को स्थानीय मांगों से अवगत
करवाया। स्थानीय पंचायत प्रधान ने हिमाचली टोपी, शाॅल और स्मृति चिन्ह देकर
मुख्यातिथि को सम्मानित किया जबकि क्रांग्रेस समिति पारनू के अध्यक्ष विद्यासागर ने
धन्यवाद किया।
इस अवसर पर एसडीएम एल.आर.वर्मा, खण्ड कांग्रेस समिति के अध्यक्ष हरी राम
कौंडल,एनएसयूआई के राज्य सचिव और गांधी युवा कल्ब के अध्यक्ष हेमन्त वर्मा,
राज्य महिला कांग्रस की महासचिव प्रभा वर्मा के अलावा अन्य अधिकारी तथा गणमान्य
व्यक्ति उपस्थित थे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *