October 20, 2017

पाक सोच-समझकर ही लेगा सऊदी गठबंधन में शामिल होने का निर्णय : शरीफ

Nawaz-Sharif4
इस्लामाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कहा कि उनकी सरकार को यमन में बागियों से मुकाबला करने के लिए लड़ रहे सऊदी अरब की अगुवाई वाले गठबंधन में शामिल होने की जल्दी नहीं है। शरीफ ने यमन में सैनिकों को भेजने के किसी भी फैसले पर संसद की सहमति मांगी है। नेशनल असेम्बली और सीनेट में सऊदी अरब की अपील पर सैनिकों की तैनाती के मुद्दे पर विचार-विमर्श किया गया। पाकिस्तान द्वारा अभी इस संबंध में फैसला किया जाना बाकी है। सऊदी अरब ने यमन के शिया हुती बागियों के खिलाफ पाकिस्तान से उसके दस राष्ट्रों के गठबंधन में शामिल होने को कहा है। हुती बागियों ने पूर्व राष्ट्रपति अली अब्दुल्ला सालेह के प्रति वफादार रही सैन्य इकाइयों की मदद से राजधानी सना और दक्षिणी बंदरगाह शहर अदन सहित कई महत्वपूर्ण यमनी शहरों पर कब्जा जमा लिया है। शरीफ ने इस युद्ध में सैनिकों को भेजने के मुश्किल मुद्दे पर सांसदों से सरकार को सलाह देने को कहा है। तत्कालीन जनरल परवेज मुशर्रफ द्वारा 1999 के सैन्य तख्तापलट के जरिए सरकार से उखाड़ फेंके जाने के बाद सऊदी अरब में पनाह लेने वाले शरीफ ने कहा, ‘हमें कोई जल्दी नहीं है। हम आपकी सभी अच्छी सलाहों पर गौर करेंगे।Ó उन्होंने कहा, ‘मैं यह नहीं कह रहा हूं कि आपको सरकार की नीति के आधार पर फैसला करना चाहिए। आपको सरकार का मार्गदर्शन करना चाहिए। नेताओं को हमें यह बताना चाहिए कि हम क्या करें।Ó

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *