October 17, 2017

पर्यवेक्षक विजय वर्धन ने सोलन में लिया चुनाव प्रबन्धों का जायजा

IMG_0015

सोलन, 22 अप्रैल – लोकसभा चुनाव के दृष्टिगत भारतीय चुनाव आयोग द्वारा नालागढ़ और दून विधानसभा क्षेत्र के लिये नियुक्त किये गये चुनाव पर्यवेक्षक विजय वर्धन ने आज सोलन में जिला निवार्चन अधिकारी व सहायक निर्वाचन अधिकारियों के साथ चुनाव को लेकर की जा रही तैयारियों का विस्तृत जायजा लिया। उन्होंने निर्वाचन सभा क्षेत्रों में चुनाव के लिये नियुक्त स्टाफ की रेण्डमाईजेशन भी की साथ ही चुनाव के दौरान कानून व व्यवस्था को भी जाना। पर्यवेक्षक ने कहा कि जिला में शराब निर्माता कम्पनियों और शराब की बिक्री पर निगरानी रखी जाये। जिला में कहीं पर भी राजनीतिक दल अथवा उम्मीदवार द्वारा मत के प्रलोभन हेतु इसका अवैद्य वितरण विल्कुल न हो, इस बात को सुनिश्चित बनाया जाये। उन्होंने कहा कि जिला में संवेदनशील व अति संवेदनशील मतदान केन्द्रों पर स्टाफ की तैनाती चुनाव आयोग के दिशा निर्देशानुसार की जाये और ऐसे केन्द्रों पर सुरक्षा व्यवस्था की माकूल व्यवस्था की जानी चाहिए। इन केन्द्रों की वीडियोग्राफी को भी सुनिश्चित बनाया जाये। उन्होंने जिला में स्वीप कार्यक्रम की जानकारी भी प्राप्त की और अपेक्षा की कि इस बार मतदान प्रतिशतता पिछले लोस चुनाव से अधिक रहे। उन्होंने कहा कि इसके लिये जिला में लोगों को मतदान के लिये जागरूक बनाने के अभियान को बहुमुखी बनाकर जारी रखा जाये। पर्यवेक्षक ने बताया कि नालागढ विस क्षेत्र के लिये 40 जबकि दून में 36 माईक्रो आब्जर्वर नियुक्त किये गये हैं। इसी तरह अर्की में 43, सोलन के लिये 41 तथा कसौली के लिये भी 41 माईक्रो आब्जर्वर तैनात किये गये हैं जो चुनाव के दौरान मतदान केन्द्रों का दौरा करके रिपोर्ट उन्हें तथा जिला निर्वाचन अधिकारी को देंगे। उन्होंने बताया कि जिला के विस क्षेत्र कसौली व सोलन में एक-एक मतदान केन्द्र ऐसा है जहां पर 1500 से अधिक मतदाता हैं। 32 मतदान केन्द्र ऐसे हैं जहां पर 300 से कम मतदाता हैं। इस मौके पर जिला निर्वाचन अधिकारी सोलन मदन चौहान ने पर्यवेक्षक को चुनावी तैयारियों का विवरण देते हुए बताया कि जिला में कुल पांच विधानसभा क्षेत्र सोलन, अर्की, नालागढ़, दून और कसौली हैं, जिनमें सर्विस वोटर सहित कुल 3,47,861 मतदाता हैं। जिला में कुल 521 पोलिंग स्टेशन स्थापित किये गए हैं। नालागढ में 98 तथा दून विस क्षेत्र में 85 बूथ हैं। उन्होंने बताया कि जिला में सभी बूथों के लिये कुल 680 ईवीएम की आवश्यकता होगी जिनमें 129 रिज़र्व रखी गई हैं। विधानसभा क्षेत्रवार ईवीएम की रेण्डमाईजेशन पूरी कर ली गई हैं । मदन चौहान ने बताया कि जिला के सभी निर्वाचन सभा क्षेत्रों में चुनाव की पहली रिहर्सल पूरी कर ली गई है। उन्होंने बताया कि इसी दौरान ईवीएम को सम्बन्धित पोलिंग स्टेशन के लिये डिस्पैच के साथ इन्हें मतदान के पश्चात प्राप्त करने के लिये केन्द्रों का निर्धारण कर लिया गया है। बैठक में पुलिस अधीक्षक सोलन डा. रमेश छाजटा, बद्दी के पुलिस अधीक्षक अरूल कुमार, अतिरिक्त उपायुक्त सोलन सीपी वर्मा, नालागढ के एसडीएम ललित जैन, सोलन के एसडीएम टशी सन्डूप, दून के सहायक रिटनिंग अधिकारी यशपाल शर्मा, एसडीएम अर्की एलआर वर्मा, क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी निशान्त ठाकुर व नायब तहसीलदार निर्वाचन गुरबख्श सिंह उपस्थित थे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *