October 24, 2017

चुनाव आयोग द्वारा तय दरें ही होंगी मान्य – व्यय पर्यवेक्षक

Expenditure observer Abhey Kumar Holding the meeting of ARO,s & AEO today at Dsala (1)

धर्मशाला, 13 अप्रैल: लोकसभा चुनाव में भाग ले रहे उम्मीदवारों द्वारा किसी भी प्रकार के धार्मिक समागम में जाने पर भी समागम का पूरा व्यय संबंधित उम्मीदवार के खाते में वहन किया जाएगा। यह जानकारी व्यय पर्यवेक्षक अभय कुमार ने सहायक निर्वाचन अधिकारियों एवं व्यय निगरानी समितियों की बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी। अभय ने बताया कि व्यय से संबंधित दरों की बुकिंग निर्वाचन आयोग द्वारा तय की गई दरों के अनुरूप की जाएगी जिसमें समस्त व्यय सम्मिलित किए जायेंगे। उन्होंने बताया कि उम्मीदवार अपने पास कुछ अग्रिम राशि नकद भुगताने हेतु रख सकते हैं जिसका भी उन्हें पूर्ण विवरण देना होगा। उन्होंने बताया कि इस चुनाव को स्वतंत्र एवं निष्पक्ष करवाने के लिए जिला में समस्त प्रकार की संदिग्ध गतिविधियों पर कड़ी नज़र रखी जाएगी तथा इस दौरान मतदाताओं को किसी प्रकार का कोई प्रलोभन न दिया जाए, इसपर विशेष ध्यान रखा जाएगा। उन्होंने बताया कि जिला में चुनाव के दौरान धन एवं शराब के उपयोग को रोकने के लिए व्यवस्था की जाएगी। जिला में प्रत्येक दिन बिकनी वाली शराब की रेशो पर भी कड़ी नज़र रखी जाएगी। उन्होंने व्यय निगरानी समितियों के अध्यक्षों को निर्देश देते हुए बताया कि वह समय-समय पर शेडो आॅबर्जवेशन रजिस्टरों में इंद्राज करते रहे तथा चुनाव से पूर्व तीन बार संबंधित रजिस्टरों का निरीक्षण पर्यवेक्षक द्वारा किया जाएगा। उन्होंने जिला में कार्यरत समस्त बैंकों से सभी प्रकार के लेन-देन की कड़ी निगरानी रखने के निर्देश दिए तथा किसी भी संदिग्ध लेन-देन पर जिला निर्वाचन अधिकारी को सूचित करने आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि इस अवधि के दौरान जिला में कीमती वस्तुओं एवं एटीएम मशीनों के लिए कार्य कर रही कैश वैन का भी निरीक्षण किया जाएगा।
पर्यवेक्षक ने बताया कि जिला में कार्यरत सभी गैर सरकारी एवं सरकारी संगठनों द्वारा की जा रही गतिविधियों पर कड़ी निगरानी रखी जाएगी। उन्होंने बताया कि जिला में कार्यरत विभिन्न स्वयं सहायता समूहों एवं धार्मिक संगठनों द्वारा इस दौरान आयोजित किए जाने वाले समारोहों व आयोजनों पर भी कड़ी नज़र रखी जाएगी। उन्होंने बताया कि जिला के हवाई अड्डे पर जहाजों के आवागमन के समय फलाईंग स्कवार्ड टीमें आंगुतकों की जांच करेंगी तथा किसी भी संदिग्ध व्यक्ति एवं उनके समान की गहन जांच की जा सकती है। उन्होंने बताया कि इस दौरान होने वाले किसी भी प्रकार के राजनीतिक समारोह की वीडियोग्राफी की जाएगी ताकि उम्मीदवार द्वारा किए जा रहे व्यय का आकलन किया जा सके। अभय ने बताया कि जिला में आदर्श चुनाव आचार संहित के उल्लघंन एवं धन व अन्य वस्तुओं के दुरूपयोग की शिकायत के लिए चैबीस घंटे कार्य करने के लिए शिकायत कक्ष स्थापित किए गए हैं जिनके दूरभाष क्रमशः 01892-223318, 222541 और 222581 व टाॅल-फ्री नम्बर 1800-180-8017 हैं। उन्होंने जिला के समस्त मतदाताओं से बैठक के माध्यम से आवाह्न किया है कि इन नम्बरों पर चुनाव से संबंधित कोई भी शिकायत दर्ज करवाएं। उन्होंने जिला में गठित मीडिया प्रमाणीकरण एवं निगरानी समिति के सदस्यों से पेड न्यूज एवं विज्ञापनों की माॅनीटिरिंग के लिए समस्त समाचार-पत्रों एवं प्रदेश में प्रचलित समाचार चैनलों व लोकल केबल नेटवर्क की चैबीस घंटे माॅनीटिरिंग के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि जिला के विभिन्न स्थानों पर चल रहे केबल नेटवर्क की भी संबंधित सहायक निर्वाचन अधिकारी माॅनीटिरिंग करेंगे। उन्होंने जिला के समस्त मतदाताओं से अधिक से अधिक संख्या में मतदान में भाग लेने का आग्रह किया। बैठक के दौरान जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त कांगड़ा सी.पाॅलरासु ने जिला में चुनाव संबंधी तैयारियों की विस्तृत जानकारी व्यय पर्यवेक्षक को दी तथा बताया कि लोकसभा क्षेत्र के लिए 17 विभिन्न व्यय निगरानी समितियां गठित की गई हैं जबकि इस लोकसभा क्षेत्र के 17 विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों में अन्य विभिन्न समितियों का गठन भी कर दिया गया है जो सुचारू रूप से कार्य कर रही हैं। बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त सुदेश मोक्टा, एडीएम राकेश शर्मा, एसडीएम डाॅ हरीश गज्जु, आबकारी एवं कराधान अधिकारी राकेश शर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सहित चुनाव से संबंधित विभिन्न समितियों के पदाधिकारी उपस्थित थे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *