Header ad
Header ad
Header ad

गृह निर्माण के लिए सुरक्षित भूमि का चयन अनिवार्यः सुधीर

eधर्मशाला, 27 जुलाई: गृह निर्माण के लिए सुरक्षित भूमि के चयन को प्राथमिकता
दें ताकि दुर्घटनाओं से बचा जा सकें। यह उद्गार शहरी विकास, नगर नियोजन एवं
आवास मंत्री श्री सुधीर शर्मा ने झियोल गांव के बीचोबिच बहते नगड़ बेहड़ा नाला
से क्षतिग्रस्त हुई भूमि का जायजा लेने के पश्चात् प्रकट किए। उन्होंने कहा कि
आज के परिवेश में आवश्यक है कि घरों को बनाने से पूर्व सुरक्षित भूमि का चयन
किया जाए। नदी नालों व ढलानों के किनारे मकान निर्मित करने से बचना अति आवश्यक
है।
     श्री सुधीर शर्मा ने कहा कि बेहतरतीव घरों के निर्माण व असुरक्षित भूमि
पर निर्मित मकानों में भारी बरसात के चलते भूमि के धंसने व स्थानीय नदी नालों
में जल के बढ़ते वेग से भूमि कटाव से जहां दुर्घटनाओं को न्योता मिलता हैं वहीं
इनसे लोगों को आर्थिक नुकसान भी झेलना पड़ता है।
     शहरी विकास मंत्री ने झियोल गांव के वार्ड नम्बर 4 में गत दिनों नगड़
बेहड़ा नाला के जल से धंसी भूमि का निरीक्षण किया तथा तत्काल प्रभाव से यहां
भू-सरंक्षण विभाग को रिटेनिग वॉल लगाने के दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने भारी
वर्षा से प्रभावित मस्तराम, परसराम व प्रीतम सिंह के अतिरिक्त अन्य कई लोगों
के घरों का भी निरीक्षण किया तथा संबंधित विभाग को इस नाले की मुरम्मत के आदेश
दिए।
     इस अवसर पर उपायुक्त रितेश चौहान ने बताया कि नगड़ बेहड़ा नाला मंे आए
अत्याधिक पानी के कारण धंस रही जमीन के संरक्षण के लिए प्रशासन द्वारा पहले
दिन ही निरीक्षण करने पश्चात् उस स्थल को बड़े तरपालों से ढक दिया गया था तथा
स्थानीय लोगों के बचाव के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश जारी कर दिए गए थे।
उन्होंने कहा कि शीघ्र ही नाले में गिरे हुए मलवे को प्रशासन द्वारा हटवाकर
संबंधित विभाग को रिटेनिग वॉल बनाने के लिए दिए गए निर्देशों की अनुपालना
सुनिश्चित करवाई जाएगी।
     इसके उपरांत शहरी विकास मंत्री श्री सुधीर शर्मा ने गत दिनों सकोह में
करन्ट से मरने वाले युवक के घर जाकर उनके परिवार को शोक संवेदना प्रकट की।
उन्होंने कहा कि दुख की इस घड़ी में वह सभी उनके परिवार के साथ खड़े हैं। श्री
सुधीर शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि मृत्यु से संबंधित तथ्यों की
फॉरेन्सिक रिर्पोट अभी नहीं आई है जबकि जांच के लिए लोगों के ब्यान लिए जा रहे
हैं। कानून प्रक्रिया अपना कार्य कर रही है।
     शहरी विकास मंत्री ने झियोल व सकोह में लोगों की समस्याओं को भी सुना तथा
संबंधित विभागों को उनके निवारण हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।
     इस अवसर पर एसपी कांगड़ा अभिषेक दुल्लर, एसडीएम श्रवण कुमार माण्टा, एएसपी
शालिनी अग्निहोत्री, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष राकेश धीमान, ओएसडी अमित डोगरा,
अधिशासी अभियंता विद्युत एवं सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य अजय गौतम, दीपक गर्ग
सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी, कर्मचारी तथा पंचायती राज संस्थाओं के
प्रतिनिधि उपस्थित थे।
Share

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please Solve it * *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)