October 22, 2017

खाई में यात्रियों से भरी बसजाते-जाते बची 35

 

चंबा- सुनारा संपर्क मार्ग पर शुक्रवार सवेरे एक निजी बस के अनियंत्रित होकर सड़क से बाहर लटक जाने से एक बड़ा हादसा होते-होते टल गया। बस को अनियंत्रित होता देख इसमें सवार करीब 25 सवारियों की कुछ देर के लिए सांसें ही निजी बस के चालक ने गाड़ी का पुर्जा टूटने से उतराई पर अचानक नियंत्रण खो दिया। बस को अनियंत्रित होता देख सवारियों ने चीखना-चिल्लाना आरंभ कर दिया। और देखते ही देखते बस का ड्राइवर साइड का पहिया सड़क से बाहर डंगे पर जा अटका। सवारियों के चीखने चिल्लाने की आवाज सुनकर मौके पर आसपास के लोग इकट्ठे हो गये। बस के रुकते ही सवारियों ने बाहर निकलकर राहत की सांस ली। चालक के मुताबिक कमानी टूटने के कारण बस अनियंत्रित हो गई थी। चालक का कहना है कि मानसिक संतुलन बरकरार रखते हुए अनियंत्रित बस पर काबू पा लिया गया। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक अगर बस चालक ने होशियारी न दिखाई होती तो बस सड़क से नीचे लुड़क जाती और काफी जान माल का नुकसान होता। उन्होंने बताया कि सड़क की खराब हालत भी ऐसे हादसों का सबब बनी हुई है। उल्लेखनीय है कि एक सप्ताह के भीतर ही जिला में बस लटकने का यह दूसरा मामला है। इससे पहले पनेला मार्ग पर भी परिवहन निगम की सवारियों से भरी बस का पहिया सड़क से बाहर निकल जाने से 40 सवारियों की जान आफत में पड़ते-पड़ते बची थी।थम गईं, मगर चालक ने मुस्तैदी दिखाते हुए अनियंत्रित बस को सड़क से नीचे लुड़कने से बचा लिया। बस के रुकने के बाद ही सवारियों की जान में जान आई। जानकारी के अनुसार शुक्रवार सवेरे सुनारा से चंबा की ओर आ रही

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *