October 18, 2017

कान्डो कांसर में लगा विधिक साक्षरता शिविर

8 जुलाई सिरमौर : हिमाचल प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, शिमला के सौजन्य से पांवटा विकास खण्ड की दूर-दराज की ग्राम पंचायत कांडो कांसर के राजकीय माध्यमिक पाठशाला के प्रंागण में विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। इस शिविर की अध्यक्षता सिविल जज प्रथम श्रेणी पांवटा साहिब श्री परमिंदर सिंह अरोड़ा ने की। इस अवसर पर बोलते हुए श्री परमिंदर सिंह अरोड़ा ने कहा कि ग्रामीण लोगों को अपने झगड़ों का निपटारा पंचायत स्तर पर ही कर लेना चाहिए क्योंकि इससे जहां उनके धन व समय की बचत होगी तो वहीं कोर्ट कचहरी के चक्कर भी नहीं काटने पड़ेगें। उन्होने जानकारी दी कि पंचायते 500 रुपये तक के मामलों का निपटरा अपने स्तर पर ही कर सकती हैं, जबकि इससे अधिक राशि का मामला अदालत में लाया जा सकता है। उन्होंने यह जानकारी भी दी कि जिनकी वार्षिक आय एक लाख रुपये से कम हो, यदि अनुसूचित जाति व जनजाति वर्ग से संबंधित हो, यदि महिलायें एवम बच्चे हों, उदयोगों में काम करने वाले कामगार हों, प्राकृतिक आपदा के शिकार हों, बेगार प्रथा का शिकार हो, मानसिक रुप से अस्वस्थ हो तो ये सभी मुफत कानूनी सेवा के हकदार हैं। इसके इलावा उन्होने सूचना का अधिकार कानून से संबंधित विस्तृत जानकारी भी उपस्थित लोगों को दी।
इस शिविर में अधिवक्ता वी0 के0 चौधरी ने पंचायती राज, उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम व जन्म-मृत्यु का पंजीकरण, अधिवक्ता आत्मा राम शर्मा ने घरेलू हिंसा कानून व अधिवक्ता देश राज ठाकुर ने गिरफतार व्यक्तियों के अधिकार व मोटर वाहन दुर्धटनाआें में क्षति के लिए मुआवजा कानून से संबंधित विस्तृत जानकारी उपस्थित लोगों को दी। इसके अलावा सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग पांवटा साहिब द्वारा सरकारी योजनाआें, कार्यक्रमों व उपलब्धियों की जानकारी भी विडियो शो के माध्यम से दी गई।
इस दौरान प्रधान कान्डो-कांसर रीता देवी, पंचायत सदस्य चन्द्रकला, दलवीर सिंह, पंचायत सचिव सम्पाल सिंह, नंबरदार तेजवीर सिंह, चौकी प्रभारी माजरा हरमेश सिंह, महिला मंडल प्रधान महिमा देवी, संतोष कुमारी, राधा देवी, निर्मला देवी, कमलेश, भीम सिंह, सुरेश, बूटी नाथ सहित कई गण्यमान्य लोग उपस्थित थे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *