October 17, 2017

काजा में पानी बना बर्फ

काजा — स्पीति घाटी में ठंड का प्रकोप धीरे-धीरे बढ़ने लगा है। इससे जल स्रोत जमने लगे हैं, जिसके चलते काजा के लोगों को पेयजल की किल्लत शुरू हो गई है। मिली जानकारी के अनुसार काजा के कुछ इलाकों में ही नियमित पेयजल आपूर्ति हो रही है, जबकि बाकी के इलाकों के लोगों को पानी के लिए लंबी-लंबी कतारों में अपनी बारी का इंतजार करना पड़ रहा है। काजा ग्राम पंचायत प्रधान पदमा दोरजे ने बताया काजा व इसके आसपास के इलाकों के लिए शिलानाला से पानी की आपूर्ति होती है, लेकिन ठंड के कारण उक्त इस नाले का पानी जमना शुरु हो गया है। इससे पानी की आपूर्ति पूरी नहीं हो पा रही है। प्रधान ने कहा है कि  सरकार जहां एक ओर सुविधाएं देने की लंबी चौड़ी बाते कर रही हैं, वहीं दूसरी ओर जनता मूलभूत सुविधाओं के लिए जूझ रही है। हर साल की भांति इस साल भी पेयजल की समस्या काजावासियों को सताने लगी है। हालांकि अभी ठंड शुरू ही हुई है। वहीं सिचाई एवं स्वास्थ्य विभाग स्पीति की माने तो काजा में पेयजल आपूर्ति सुचारू रूप से हो रही है। कुछ स्थानों में पाइप के जमने के कारण समस्या आ रही है, जिसका निराकरण कर बाकी के इलाकों में भी जल आपूर्ति बहाल कर दी जाएगी। कई स्थानीय वासियों को पेयजल के साथ-साथ सिंचाई के पानी की भी किल्लत पैदा हो गई है।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *