Header ad
Header ad
Header ad

उत्तराखंड के बाढ़ पीडि़तों की सहायता के लिये निरंकारी भक्त भी पीछे नहीं

दिल्ली, 2 जुलाई : निरंकारी बाबा हरदेव सिंह जी महाराज के पावन आशीर्वाद से सन्त निरंकारी चेरिटेबल फाउंडेशन उत्तराखंड के बाढ़ पीडि़तों की सहायता के लिये अनेक कार्यक्रम चला रहा है। चेरिटेबल फाउंडेशन के सचिव श्री सी.एल. गुलाटी ने मिशन के सभी श्रद्धालु भक्तों फाउंडेशन को उत्तराखंड राहत कोष में उदारपूर्वक दान देने के लिये प्रार्थना की है जिसके लिये उन्हें आयकर कानून की धारा 80(जी)5(अप) के अंतरगत कर से छूट भी प्राप्त होगी। यह दान सन्त निरंकारी मण्डल की रसीद द्वारा भी दिया जा सकता है।

उत्तराखंड राज्य में सन्त निरंकारी मिशन की सेवादल की यूनिटें बाढ़ पीडि़तों के बचाव के प्रयास में पहले से ही रात-दिन जुटी हुई है। उत्तराखंड और इसके निकटवर्ती क्षेत्रों में घायलों को शीध््रा राहत पहुँचाने के लिये रक्तदान शिविरों की शृंखला आयोजित की जा रही है।

मसूरी विकास प्राधिकरण द्वारा चलाये जा रहे बचाव केन्द्र को 15 करेट खनिज पानी (मिनरल वाटर), 5000 रुपये के मूल्य की दवाईयाँ और 2000 पैकेट बिस्कुट से भरा हुआ एक ट्रक 21 जून, 2013 को भेजा गया। इसके अतिरिक्त खनिज पानी, बिस्कुट, नमकीन, डबल रोटी के पैकेट, तरपाल, कम्बल, जरसी और अन्य कपड़ों से भरे दो ट्रक भी मसूरी विकास प्राधिकरण को दिये गये। मिशन की मुजफ्फरनगर ब्रांच ने 120 कविंटल चारा हरिद्वार क्षेत्र में पशुओं के लिये दिया है।

सहारनपुर जिले के 30 प्रभावित परिवारों को 2,21,500 रुपये वितृत किये गये। इसके अतिरिक्त 10,00,000 रुपये और भी जरूरतमंदों के लिये दिये जा रहे हैं।

सम्पूर्ण उत्तराखंड में बाढ़ पीडि़त लोगों को लंगर बांटा जा रहा है। सन्त निरंकारी चेरिटेबल फाउंडेशन की ओर से उत्तराखंड में विभिन्न राहत कार्य जारी है।

Share

About The Author

Related posts

Leave a Reply

 Click this button or press Ctrl+G to toggle between multilang and English

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please Solve it * *