Header ad
Header ad
Header ad

अनुसूचित जाति बस्तियों में लगेंगी 166 सोलर लाइटेंः सुधीर , उच विकास का मॉडल बनेगा जिला कांगड़ा

धर्मशाला,

14 जुलाईः हिमऊर्जा के सौजन्य से प्रदेश के 10 जिलों में 2 करोड़ रुपए की लागत से
884 सोलर लाईटें अनुसूचित जाति बस्तियों में लगाई जाएंगी जिसमें से 48 लाख रुपए
की लागत से कांगड़ा जिला की हरिजन बस्तियों में 166 सोलर लाइटें स्थापित की
जाएंगी।

यह
वक्तव्य जारी करते हुए शहरी विकास एवं आवास मंत्री, श्री सुधीर शर्मा ने कहा कि
कांगड़ा जिला को प्रदेश में विकास का मॉडल बनाने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं
तथा जिला की प्रत्येक पंचायत में मूलभूत सुविधाओं का सृजन करने के लिए ग्रामीण
विकास एवं अन्य संबंधित विभागों के माध्यम से कार्ययोजना तैयार की जा रही है ताकि
ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को घर-ंउचयद्वार पर आवश्यक सुविधाएं मिलने
से उन्हें छुटपुट कार्यों के लिए शहर की ओर न आना पड़े। उन्होंने बताया कि
सीएनबीसी आवाज़ न्यूज चैनल द्वारा धर्मशाला को सर्वश्रेष्ठ ट्रेवल अवार्ड का खिताब
दिया गया है जोकि जिला के लोगों के लिए गौरव का विषय है जिससे जिला में पर्यटन
को और ब-सजय़ावा मिलेगा।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री,
श्री वीरभद्र सिंह के गतिशील नेतृत्व में प्रदेश में विकास की नई इबारत लिखी गई
है तथा वर्तमान सरकार का छः मास का कार्यकाल विकास की दिशा में एक मील पत्थर साबित
हुआ है। उन्होंने कहा कि कांगड़ा जिला में लंबित पड़े विकास कार्यों को पुनः
आरंभ करके तेजी लाई गई है। इसके अतिरिक्त जिला के लिए करोड़ों रुपए की अनेक
योजनाएं स्वीकृत की गई हैं जिसपर कार्य करना भी आरंभ कर दिया गया है। -दइेचय-दइेचय

श्री सुधीर शर्मा ने
कांगड़ा जिला के विकास का उल्लेख करते हुए कहा कि श्री वीरभद्र सिंह ने सता संभालने
के उपरांत धर्मशाला शहर के लिए 21 करोड़ रुपए की पेयजल योजना स्वीकृत की है। इसी
प्रकार इस क्षेत्र के बेरोजगार युवाओं को घर-ंउचयद्वार पर रोजगार उपलब्ध करवाने के
दृष्टिगत धर्मशाला विधानसभा में निजी क्षेत्र में आईटी पार्क स्थापित करने के
लिए अपनी स्वीकृति प्रदान की है तथा इस पार्क की स्थापना के लिए जदरांगल में 400
कनाल भूमि का चयन किया गया है। इसके अतिरिक्त जिला में औद्योगिक गतिविधियों को
ब-सजय़ावा देने के लिए इंदौरा में एक हजार कनाल भूमि का चयन कर लिया गया है।
उन्होंने कहा कि ज्वालामुखी एवं देहरा नगर पंचायत का दर्जा ब-सजय़ाकर नगर
परिषद कर दिया गया है जबकि बैजनाथ-ंउचयपपरोला को भी नगर परिषद् का
दर्जा प्रदान करना प्रस्तावित है।

उन्होंने कहा कि नूरपुर
क्षेत्र की छौंछ खड्ड के तटीयकरण के लिए 326 करोड़ रुपए की डीपीआर तैयार कर दी
गई है तथा इस खड्ड के तटीयकरण होने से इंदौरा और नूरपुर के 22 गांवों की
कृषि योग्य भूमि का संरक्षण होगा। इसके अतिरिक्त चामुण्डा एवं चम्बा जिला के
होली के मध्य सुरंग तैयार करने के लिए डीपीआर तैयार कर दी गई है। इसी प्रकार आदि
हिमानी-ंउचयचामुण्डा मंदिर को रज्जू मार्ग से जोड़ने के लिए सरकार ने 200 करोड़
रुपए की महत्वाकांक्षी योजना स्वीकृत कर दी गई है जिससे जिला में पर्यटन उद्योग को
ब-सजय़ावा मिलेगा।

श्री सुधीर शर्मा ने कहा कि
प्रदेश की सबसे बड़ी शाहनहर परियोजना का निर्माण कार्य भी पूर्ण हो चुका है,
जिसका शीघ्र ही लोकार्पण किया जाएगा। इसी प्रकार सिद्धाता सिंचाई योजना का कार्य
भी अंतिम चरण पर है। इसके अतिरिक्त नूरपुर क्षेत्र के लिए 205 करोड़ से अधिक से
निर्मित की जा रही फिन्ना सिंह सिंचाई योजना का निर्माण कार्य भी प्रगति पर है।
उन्होंने कहा कि टांडा मैडीकल कॉलेज में सुपर स्पेशेएलिटी की सेवाएं उपलब्ध
करवाने के लिए 150 करोड़ रुपए की राशि व्यय की जा रही है जिससे प्रदेश के निचले
क्षेत्र के लोगों को घर-ंउचयद्वार पर अत्याधुनिक स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध होंगी।

श्री सुधीर शर्मा ने बताया
कि सरकार द्वारा इस वर्ष पानी की बेहतर व्यवस्था बनाए रखने के फलस्वरूप कांगड़ा
जिला के किसी भी क्षेत्र में टैंकर के माध्यम से जलापूर्ति करने की आवश्यकता नहीं
पड़ी। उन्होंने कहा कि जिला के पेयजल समस्या वाले क्षेत्रों में 300 हैंडपंप स्थापित
किए जाएंगे। इसके अतिरिक्त सामाजिक सुरक्षा के लंबित पड़े 2770 मामलों को भी
स्वीकृति प्रदान की गई जिससे जिला में पैंशनधारकों की संख्या 54040 हो गई है।

उन्होंने बताया कि
गग्गल-ंउचयमैंक्लोड़गंज-ंउचयभागसूनाग सड़क के सुधार एवं चौड़ा करने के लिए 11
करोड़ रुपए की राशि स्वीकृत की गई है जबकि कांगड़ा में 14 करोड़ रुपए की लागत से
सीवरेज का काम प्रगति पर है। उन्होंने बताया कि धर्मशाला एवं योल क्षेत्र में विद्युत
लाईनों की मुरम्मत एवं सुधार पर 16 करोड़ रुपए की राशि व्यय की जा रही है जिसके
तहत 39 ट्रॉसफार्मर धर्मशाला और 28 योल क्षेत्र में स्थापित किए जाएंगे।

Share

About The Author

Related posts

Leave a Reply

 Click this button or press Ctrl+G to toggle between multilang and English

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please Solve it * *