October 22, 2017

जानिये अपनी प्रकृति आयुर्वेद से : हिमवेदा के चिकित्सकों से हुई विशेष बातचीत (देखें विडियो )

आयुर्वेद के माध्यम से व्यक्ति अपनी प्रकृति को स्वयं जान सकता है | व्यक्ति की मानसिक स्तिथि कैसी है और उस की शारीरिक संरचना कैसी है, यह आयुर्वेद के द्वारा निर्धारित किया जा सकता है | वात, पित और कफ तीन तरह की प्रकृति में किसी व्यक्ति की कौन सी प्रकृति है और किस तरह का जीवन रहेगा, कौन सा व्यवसाय उचित रहेगा, किस तरह का भोजन स्वास्थ्य के लिए लाभकारी है, क्या हमारे सपने हैं और इसी तरह की अपने व्यक्तित्व से जुडी बहुत सी बातें आयुर्वेद निर्धारित करता है | आयुर्वेद क्या है और किस तरह यह अन्य चिक्तिसा पद्तियों से भिन्न और श्रेष्ठ है, इन सब बातो पर प्रकाश डाला डॉ विभोर शर्मा और डॉ जे पी गुलेरिआ ने जो कि धर्मशाला में क्रिकेट स्टेडियम के समीप स्तिथ हिमवेदा आयुर्वेदिक हॉस्पिटल चलाते हैं और विदेशियों और स्थानीय निवासियों को आयुर्वेद कि मदद से बहुत से जटिल रोगों से मुक्ति दिलातें है|

Dr Vibhor Sharma (MD Ayu.) and Dr J.P. Guleria (MD Ayu.) can be contacted at HimVeda – Himachal Ayurvedic Hospital, Near International Cricket Stadium, Dharamshala, District – Kangra, H.P. 176 213 Phone: +91 9736853285 Email: help@himveda.in Website: www.himveda.in

About The Author

Himsamachar.com is an online content publishing portal. The main objective of himsamachar.com is to provide a web-based platform for users to post their content online. The focus of the portal is to publish the content that is informational for public and the visitors.

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *