Header ad
Header ad
Header ad

60 झुग्गियां पल भर में स्वाह, 12 लाख का नुकसान

27-Barotiwala-1-300x180

बरोटीवाला, बद्दी — औद्योगिक क्षेत्र बद्दी के तहत बरोटीवाला मार्ग पर निजी भूमि पर बसाई गई प्रवासी कामगारों की झुग्गियों में गुरुवार सुबह अचानक आग लगने से करीब 60 झुग्गियां जलकर राख हो गई। आगजनी से प्रवासी कामगारों का करीब 12 लाख रुपए का सामान राख के ढेर में तबदील हो गया है। आगजनी के वक्त ज्यादातर प्रवासी काम पर गए हुए थे। झुग्गियों में उनके बच्चे ही मौजूद थे, लेकिन गनीमत रही कि कोई जानी नुकसान नहीं हुआ। स्थानीय लोगों की सूचना पर दमकल कर्मियों ने घटनास्थल का रुख किया और करीब दो घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाते हुए दो सौ से ज्यादा झुग्गियों कोे बचा लिया। आगजनी की घटना की सूचना मिलते ही एसपी बददी, एसडीएम नालागढ़ के निर्देश पर तहसीलदार बद्दी ने घटनास्थल का रुख कि या और राहत कार्याें का जायजा लिया। जानकारी के मुताबिक बद्दी-बरोटीवाला मार्ग पर सिक्का होटल के पास निजी भूमि पर बसी झुग्गियों में गुरुवार सुबह करीब 9 बजे अचानक आग लग गई, आग इतनी तेजी से फैली कि किसी को समझने का मौका तक नहीं मिला और आग ने देखते ही देखते करीब 60 झुग्गियों को अपनी चपेट में ले लिया। दमकल अधिकारी बद्दी कुंदन लाल ठाकुर ने बताया कि आगजनी से करीब 60 झुगिग्यां जली हैं और करीब 12 लाख के नुकसान का अनुमान है। उधर, औद्योगिक क्षेत्र बद्दी के तहत बरोटीवाला मार्ग पर निजी भूमि पर प्रवासी कामगारों की झुग्गियों में घटी आगजनी की घटना के बाद पुलिस ने भूमि मालिक के खिलाफ धारा 336 के तहत मामला दर्ज कर लिया है। आगजनी की घटना के पीडि़तों को प्रशासन ने प्रति झुग्गी के हिसाब से 1500-1500 रुपए की फौरी राहत मुहैया करवाई। हालांकि हिमाचल में गैर-हिमाचलियों को ऐसी किसी घटना के बाद राहत का प्रावधान नहीं है, लेकिन उपमंडल प्रशासन ने पीडि़तों को 1500 रुपए की फौरी राहत मुहैया करवा दी है। आग लगने के कारणों का पता नहीं चल पाया है, लेकिन बताया जा रहा है कि प्रवासी कामगारों के बच्चे खाना बना रहे थे तो उसी दौरान आग ने झुग्गी को चपेट में ले लिया। इसके अलावा ऐसा भी माना जा रहा है कि खाना बनाते वक्त सिलेंडर ने लीकेज की वजह से आग पकड़ ली, जिसके बाद यह हादसा पेश आया।

Share

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please Solve it * *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)