Header ad
Header ad
Header ad

16वें लोकसभा चुनाव की मतदान तिथि 7 मई

IMG_5098
कुल्लू, 5 मार्च – हिमाचल प्रदेश में 16वें लोकसभा चुनाव की मतदान तिथि 7 मई, 2014 निर्धारित की गई है और आज से ही जिला कुल्लू में चुनाव आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है। यह जानकारी आज अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी विनय सिंह ठाकुर ने आदर्श आचार-संहिता को लेकर इलैक्ट्राॅनिक एवं पिंट्र मिडिया के साथ प्रैस वार्ता करते हुए दी। उन्होंने बताया कि 12 अप्रैल, 2014 से लेकर 19 अप्रैल, 2014 तक नामांकन पत्र भरने की प्रक्रिया पूर्ण की जाएगी और 21 अप्रैल को नामांकन पत्रों की छानबीन तथा 23 अप्रैल को उम्मीदवार अपना नाम वापिस ले सकते हैं। उन्होंने राजनैतिक दलों को बताया कि मुख्य चुनाव आयोग का निर्देश है कि पार्टी चुनावी घोषणा को भी इस चुनाव प्रक्रिया में आदर्श आचार चुनाव संहिता में शामिल किया गया है, जिसमें कोई भी राजनैतिक दल अपनी चुनावी घोषणा पत्र में लोक लुभावने वायदे न करें, जो पूर्ण न हो सके। इस प्रकार के प्रलोभन चुनावी वायदों से आम मतदाता प्रभावित होते हैं, जिससे स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव करवाने में अनेक दिक्कतें आती है। उन्होंने बताया कि कोई भी पार्टी और प्रत्याशी किसी भी धर्म, जाति, भाषा, समुदाय के बारे में अपशब्द प्रयोग नहीं करें, जिससे आम जनता के बीच में आपसी तनाव उत्पन्न हो, यह भी आचार-संहिता का उल्लंघन माना जाएगा। उन्होंने बताया कि सभी राजनैतिक दलों और प्रत्याशी को निजी भूमि भवन और दीवार पर पोस्टर, बैनर, नारा लेखन तथा पार्टी झण्डे लगाने के लिए मकान मालिक से अनुमति लेना अनिवार्य है। उन्होंने बताया कि धार्मिक स्थानों पर आयोजित रैली पर पूर्ण प्रतिबंध है तथा सार्वजनिक स्थलों पर पोस्टर, होर्डिंग्ज, बैनर आदि चिपकाने पर भी प्रतिबंध रहेगा। यदि कोई राजनीतिक दल धार्मिक स्थलों पर बैनर, होर्डिंग्ज आदि लगाते हैं तो उसे हटाने का खर्चा आदि भी संबंधित पार्टी के चुनावी खर्चे में जोड़ा जाएगा। उन्होंने बताया कि सार्वजनिक स्थलों पर रैली या जनसभा आयोजित करने के लिए राजनीतिक दलों को जिला प्रशासन से अनुमति लेनी होगी। इसके अतिरिक्त विश्राम गृह/परिधि गृह तथा अन्य सरकारी संस्थांओं में राजनीतिक दलों को ठहरने के अतिरिक्त पार्टी गतिविधियों के लिए अनुमति नहीं दी जाएगी। उन्होंने सभी राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों से आग्रह किया कि निष्पक्ष और स्वतंत्र चुनाव प्रक्रिया को सम्पन्न करने के लिए जिला प्रशासन का सहयोग करें। साथ में जिन मतदाताओं ने अभी तक अपने वोटर कार्ड नहीं बनाए हैं, वे 19 अप्रैल, 2014 तक नामांकन पत्र भरने के अंतिम तिथि तक अपने वोटर कार्ड बना सकते हैं। उन्होंने बताया कि इस लोकसभा चुनाव में मतदाताओं को एक विशेष अधिकार दिया गया है। यदि मतदाता को कोई भी प्रत्याशी पसंद न हो तो वे ईवीएम मशीन में ‘नोटा’ का बटन दबाकर के अपने मताधिकारी का प्रयोग कर सकता है। अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी ने बताया कि चुनाव प्रक्रिया के दौरान सभी प्रकार की सरकारी घोषणाओं पर प्रतिबंध रहेगा, लेकिन आपातकालीन स्थिति में जनता की आवश्यकताओं को पूर्ण करने के लिए मुख्य चुनाव आयोग से अनुमति लेकर जनहित कार्यों को किया जाएगा। इसके अतिरिक्त प्राकृतिक आपदा से हुए नुकसान की भरपाई के लिए चुनाव आदर्श आचार-संहिता लागू नहीं होगा। उन्होंने सभी जिला विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि अपने विभाग से संबंधित सरकार की नीतियां एवं उपलब्धियों भरे होर्डिंग्ज, बैनर आदि को शीघ्र हटायें, ताकि आदर्श आचार-संहिता का सही तरीके से पालन हो सके।

Share

About The Author

Related posts