October 23, 2017

सिरमौर में 620 हैक्टेयर भूमि पर रोपित होगे साढ़े पांच लाख पौधे-उपायुक्त

aaaनाहन 22 अगस्त- सिरमौर जिला में 620 हैक्टेयर भूमि पर जलवायु व भौगोलिक स्थिति
के आधार पर बरसात के मौसम के दौरान  साढ़े पांच लाख पौधों को रोपित किए जाएगे
यह जानकारी उपायुक्त सिरमौर श्री बलबीर बडालिया ने आज त्रिलोकपुर  में आयोजित
66वें वनमहोत्सव के  अवसर पर हरड़ का पौधा रोपित करने के उपरांत उपस्थित लोगों
को संबोधित करते हुए दी। इस मौके पर त्रिलोकपुर मंदिर के कर्मचारियों तथा
स्थानीय लोगों द्वारा विभिन्न प्रजातियों के 9 सौ पौधे रोपित किए गए।
श्री बडालिया  ने कहा कि वनों का मानव जीवन में बहुत महत्व है और वन जहां
पर्यावरण को प्रदूषण मुक्त बनाते है वहीं पर लोगों की रोजमर्रा की आवश्यकताओं
की भी पूर्ति  करते है। उन्होने कहा कि वनों की वजह से हिमाचल प्रदेश को विश्व
में सबसे अधिक प्रदूषण मुक्त राज्य माना जाता है जिस कारण देश विदेश से पर्यटक
आकर प्रकृति की नैसर्गिक छटा का आन्नद उठाते है।
उन्होने कहा कि वनीकरण कार्यक्रम को जन आन्दोलन बनाया जाना चाहिए जिसमें हर
व्यक्ति को नैतिक तौर पर अपनी भागीदारी निभानी चाहिए । उन्होने कहा कि वन
विभाग को रोपित किए जाने वाले पौधो की निगरानी की जानी चाहिए, क्योंकि पौधरोपण
के साथ- साथ पौधों की जीवित दर पर सर्वाधिक ध्यान देना अत्यंत आवश्यक है।
उन्होने लोगों का आहवान करते हुए कहा कि वह अपनी खाली पड़ी निजी भूमि पर पौध
रोपण करें, जिसके लिए वन विभाग द्वारा निःशुल्क पौधे उपलब्ध करवाए जाएगें।
उपायुक्त ने कहा कि लोगों को औषधीय पौधो के रोपण पर विशेष बल दिया जाना चाहिए
 क्योंकि औषधीय पौधें पर्यावरण के संतुलन बनाए रखने के साथ साथ किसानों के लिए
आय का साधन भी बन सकते है।
स्थानीय प्रधान लवराज ने मुख्य अतिथि का स्वागत किया और पंचायत में चलाए जा
रहे विभिन्न विकास कार्यों के लिए सरकार का आभार व्यक्त किया।
इस अवसर पर एसडीएम नाहन टाशी संडूप, वन मण्डलाधिकारी निशांत मंडोत्रा, मंदिर
अधिकारी एवं तहसीलदार नाहन आरडी हरनोट, स्थानीय प्रधान किश्न कुमार के अलावा
वन विभाग व अन्य विभागों के  अधिकारी उपस्थित थे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *