Header ad
Header ad
Header ad

शिक्षा का उद्देश्य धनोपार्जन नहीं, मानव कल्याण से जुड़ा हो: सीपी वर्मा

IMG_0118

सोलन,10 मार्च – शिक्षा आर्थिक, सामाजिक और व्यक्तित्व विकास का आधार है शिक्षा का उद्देश्य धनोपार्जन न होकर मानवीय कल्याण होना चाहिए। यह बात अतिरिक्त उपायुक्त सोलन सीपी वर्मा ने आज राजकीय महाविद्यालय अर्की के वार्षिक पारितोषिक वितरण समारोह की अध्यक्षता करते हुए कही। उन्होंने कहा कि व्यक्ति अपने अधिकारों के प्रति आज ज्यादा सचैत है, समाज के प्रति दायित्व और कर्तव्यों के निर्वहन में कम रूचि ले रहा है जो एक स्वस्थ समाज निर्माण के लिए सही नहीं है। उन्होंने शिक्षक वर्ग से कहा कि उन्हें शिक्षण संस्थानों में बेहतर वातावरण और नैतिक मूल्यों पर आधारित शिक्षा का माहौल बनाना चाहिए। उन्होंने कहा कि बच्चों को उसी प्रकार की शिक्षा प्रदान की जाए जो व्यक्ति अपने लिए दूसरों से अपेक्षा रखता है। उन्होंने कहा कि शिक्षा में बहुत से नए आयाम जोड़े जा सकते हैं। उन्होंने शिक्षणार्थियों का आह्वान किया कि वे शिक्षा से अपने-आपको अद्यतन रखने के साथ अच्छे संस्कारों को अपनाएं जिससे अच्छे नागरिक बनकर समाज निर्माण में अहम् भूमिका निभा सकें। उन्होंने कहा कि व्यक्ति जीवरभर सीखता रहता है इसके लिए जरूरी है कि व्यक्ति की नीव आरम्भ में ही मजबूत हो। उन्होंने युवाओं से कहा कि निजी तौर पर वही कार्य करें जो जनता के बीच भी मान्य हो। दूसरों से वही व्यवहार करें। उन्होंने कहा कि अपने व्यक्तित्व की उर्जा को समझें और इसे सकारात्मक कार्यों में लगाएं। महाविद्यालय के प्राचार्य डाॅ. सीएल सांख्यान ने वार्षिक रिपोर्ट पढ़ी तथा एससीए अध्यक्ष भुवनेश्वर ठाकुर ने स्वागत किया। इस मौके पर एसडीएम अर्की एलआर वर्मा, नगर पंचायत अर्की की अध्यक्ष सीमा वर्मा, उपाध्यक्ष कुलदीप सूद, पीटीए अध्यक्ष महेश गुप्ता, पूर्व प्राचार्य देवराज, आरटीए सदस्य सतीश कश्यप उपस्थित थे। इस मौके पर जिन मेधावी विद्यार्थियों को शैक्षणिक एवं अन्य गतिविधियों के लिए सम्मानित किया गया उनमें पूनम, कल्पना, नेहा, दीपिका, रीतुराज, हेमलता, मधुबाला, ज्योति, मंजू, भावना, भारती, किरण, अर्चना, सपना, रक्षा, चम्पा, भीमसेन, प्रीति, सीता, ममता, कमलेश, ज्योति, दीपक शांडिल, पूनम, वीना, राधिका वर्मा, रेखा, पूजा, पुष्पा, ललिता, गंगोत्री, रीना, गीतान्जली, वीना, पूजा, मुकेश, भुवनेश्वर, सीमा, भीमा देवी, संदीपना, नीरज ठाकुर, राकेश, रीता चित्रलेखा, अनिल, भूपचन्द, कमला, सरोज, खेमसिंह, ओमप्रकाश, इशिता, कंचन देवी, तनुजा, डिम्पल, ईश्वर, निशान्त, दीपिका, विद्या, परमिन्दर, हर्षा, पल्लवी, उमावति, ज्योति, प्रिया, उषा, नेहा सुनील, मंजू, विनोद, हेमा, अंकिता, भावना, प्रियंका, तनुजा, इंदिरा, विद्या, शिवानी, हेमलता, ज्योति, मीनाक्षी, शालिनी, महेन्द्र, विजय, जगदीश, सविता, रंजना, कंचन, पुष्पेन्द्र, ललित, कीर्ति, विशाल, कमलेश, संगीता, हर्षा, विवेक, जगदीश, प्रीति, सीमा, हिमांशु, पूनम, कमल, रजत, विनोद, संगीता, हेमप्रभा, मनोरमा, शारदा शामिल हैं। इस अवसर पर महाविद्यालय के विद्यार्थियों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए गए। इस मौके पर शिक्षा, खेलकूद तथा अन्य गतिविधियों के लिए महाविद्यालय के विद्यार्थियों को सम्मानित किया गया।

Share

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please Solve it * *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)