October 19, 2017

वीवीआईपी एंट्री के लिए हंगामा

DSL-53-300x228

धर्मशाला — पुलिस मैदान धर्मशाला में राहुल गांधी की संकल्प रैली में वीवीआईपी एंट्री के चक्कर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं व पुलिस-एसपीजी के जवानों के बीच खूब बहसबाजी हुई। आईडी कार्ड न दिखाने पर पुलिस कर्मचारियों द्वारा एक दर्जन के करीब कार्यकर्ताओं को रोक लिया गया। इस पर कार्यकर्ता आग बबूला हो गए और मामला काफी गरमा गया। इसी बीच पुलिस के बड़े अधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद मामला शांत हो पाया। गौर हो कि लोकसभा चुनाव-2014 को लेकर धर्मशाला में राहुल गांधी की संकल्प रैली गुरुवार को आयोजित की गई। इसमें आम जनता के लिए पुलिस मैदान के पीछे से एंट्री रखी गई थी। वहीं कांग्रेस के प्रदेश, जिला एवं ब्लॉक के पदाधिकारियों को अलग से बॉक्स बनाया गया था। इसके लिए कांग्रेस द्वारा विशेष कार्ड भी जारी किए गए थे। पदाधिकारियों की सूची भी एसपीजी व पुलिस बल को प्रदान की गई थी। लेकिन कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा वीवीआईपी एंट्री गेट में बिना आईडी कार्ड से अंदर जाने की बात को लेकर मामला गरमा गया। पुलिस व सीपीजी जवानों ने कार्यकर्ताओं को बिना आईडी प्रूफ के अंदर नहीं जाने दिया। इस पर कार्यकर्ताओं द्वारा जवानों के साथ बहसबाजी की गई। मामले के अधिक गरमाए जाने पर पुलिस के बड़े अधिकारियों को मामले में हस्तक्षेप करना पड़ा। इसके बाद कार्यकर्ताओं के नाम सूची में खोजे गए। वहीं, उन्हें पुलिस के बड़े अधिकारियों द्वारा बिना कार्ड के भी अंदर जाने की अनुमति प्रदान कर दी गई। इसके अलावा वीवीआईपी गेट में आम लोगों के पंहुचने पर उन्हें जल्दी से दूसरे गेट का रास्ता बता दिया जा रहा था। इस तरह कांग्रेस कार्यकर्ताओं में बिना आईडी कार्ड की एंट्री को लेकर खूब हंगामा देखने को मिला है।

About The Author

Related posts

1 Comment

  1. RAKESH SANORIA

    क्या आत है ! अगर हिन्दोस्तान मैं चापलूसी का ओलिंपिक हो तो सरे मैडल हिन्दोस्तान के नेताओं को ही मिलेंगे ! पर राहुल गांधी यह क्यों नहीं समझते ! कि यह चापलूसी ही इन्हें आगामी आने बाले लोक सभा चुनावो मैं हार का सामना देगी ! , कांग्रेस ही नहीं देश कि साड़ी पार्टियां चापलूसों से भरी पड़ी हैं म्हणत कोई नहीं करना चाहता ! सिर्फ चापलूसी करके ही खाना चाहते हैं ! सारे बन काट डाले नेताओं ने ! बन्दर और बाघ घरों मैं घूम रहे हैं ! पता नहीं इन नेताओं को खत्म कव यह जनता करेगी ! जनता पता नहीं कव यह समजेगी कि नेता लोग आपको चुनावो के समय दिए गए पौवे को विकास समजते हैं ! और आप इसे स्वीकार करते वक्त अपना सव कुछ वेच देतें हैं ! शर्म करो और अपनी खुद्दारी दिखाओ और वोट सिर्फ राईट तो रिजेक्ट पर डावाओ !

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *