October 22, 2017

लोस चुनाव के लिये गठित कमेटियों के पदाधिकारियों के लिये एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला सोलन में

IMG_0003

सोलन 28 मार्च – लोकतन्त्र में चुनाव महत्वपूर्ण प्रक्रिया है। संविधान की अपेक्षा के अनुरूप चुनाव निष्पक्ष और शांतिपूर्ण तरीके से सम्पन्न हो, इसके लिये जरूरी है कि चुनाव से जुड़ी जिम्मेवारी का सभी अधिकारी व कर्मचारी ईमानदारी और निष्ठा के साथ निर्वहन करें। यह बात जिला निर्वाचन अधिकारी सोलन मदन चैहान ने आज उनके कार्यालय स्थित सभागार में लोकसभा चुनाव के लिये गठित विभिन्न समितियों के पदाधिकारियों के लिये एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला के अवसर पर कही। कार्यशाला में जिला स्तर तथा विधानसभा स्तर पर गठित खर्चा माॅनीट्रिंग, वीडियो सर्विलेन्स, उड़न दस्ते, सतर्कता व एमसीएमसी समितियों के पदाधिकारियों ने भाग लिया। उपायुक्त ने पदाधिकारियों से कहा कि चुनाव एक संवेदनशील प्रक्रिया है। इस बारे किसी प्रकार की कोताही व चुनाव आयोग के दिशानिर्देशानुसार दिये गये आदेशों की अवहेलना किसी कीमत पर नहीं की जा सकती। उन्होंने कहा कि सभी समितियां दिये गये दायित्व का निर्वहन अच्छे तरीके से करें। उन्होंने कहा कि सभी समितियां अपने-अपने क्षेत्रों में मुस्तैदी के साथ काम में जुट गई हैं और चुनाव से जुड़ी सभी गतिविधियों पर पैनी नजर रखी गई है। सभी गतिविधियों की वीडियोग्राफी की जा रही है। उन्होंने बताया कि जिला में बड़ी संख्या में चुनाव के लिये स्टाॅफ नियुक्त किया गया है। जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि आदर्श चुनाव आचार संहिता के दौरान उम्मीदवार अथवा राजनीतिक दल द्वारा किये जा रहे खर्चे पर बारिकी से माॅनीट्रिंग की जा रही है। राजनीतिक रैलियों और जलसों की वीडियोग्राफी करके इस दौरान प्रयोग किये जा रहे शामियानों, कुर्सियों, दरियों या फिर खाने-पीने की व्यवस्था के खर्च का अलग-अलग से विवरण हासिल करके खर्चे में जोड़ा जा रहा है। उन्होंने कहा कि चुनावी रैलियों व सभाओं के लिये पूर्व अनुमति लेना जरूरी है। यह अनुमति जिला निर्वाचन अधिकारी या सम्बन्धित सहायक निर्वाचन अधिकारी (एसडीएम) से प्राप्त की जा सकती है। उन्होंने बताया कि पांच लाख से उपर या अवैध नकदी लेकर चलने पर कार्रवाई की जायेगी। बड़ी नकदी और शराब पर उड़न दस्तों व सर्विलेन्स दलों द्वारा कड़ा पहरा दिया जा रहा है। जिला स्तरीय खर्चा माॅनीट्रिंग समिति आरसी बिष्ट व बेनी प्रसाद द्वारा इस मौके पर प्रस्तुति के माध्यम से विस्तारपूर्वक समिति के कार्यों की जानकारी दी गई। बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त एवं जिला स्तर पर विभिन्न समितियों के नोडल अधिकारी सीपी वर्मा, भारतीय प्रशासनिक सेवा की प्रोवेशनर ऋचा वर्मा, उपमण्डलाधिकारी (ना) में अभिषेक जैन, टशी सन्डूप, एलआर वर्मा व एसएम सानी, सभी तहसीलदार व नायब तहसीलदारों सहित तहसीलदार चुनाव राजेश तोमर, नायब तहसीलदार गुरबख्श सिंह, मुनीष, निशा व नीरजा व विभिन्न विभागों के अधिकारी और कर्मचारी उपस्थित थे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *