Header ad

रोजगार कार्यालय बना “रोज चक्र” कार्यालय

जो० नगर (विजय भारद्वाज ) उपमण्डल में स्थापित रोजगार कार्यालय काफी समय से दूर दराज से आने वाले लोगों की परेशानी का केन्द्र बना हुआ है। इस रोजगार कार्यालय में बड़ी दूर-दफर से बच्चे अपने पंजीकरण करवाने हेतू आते हैं। परन्तु जब रोजगार कार्यालय जो० नगर पहुँचते हैं तो वहाँ पर कार्यारत कर्मचारी उन्हें कई प्रकार की गल्तियाँ निकाल कर या बिना गलती के भी दोबारा आने को कहते हैं। बच्चा 50 -55 किलोमीटर दूर से यहाँ अपना नाम पंजीकृत करवाने आता है, ये उम्मीद लेकर की इसका काम एक ही दिन में हो जाएगा, परन्तु इस विभाग में कार्यरत कर्मचारी बच्चों को चक्कर पे चक्कर लगाने के लिए मजबूर करते हैं। ऐसे कई वाक्या बच्चों के सामने पेश आए, जिसमें बच्चों ने हि०प्र० सरकार द्वारा चलाए गए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के तहत अपना रजिस्ट्रेशन लोकमित्र केन्द्र से या कइयों ने घर बैठे किया, परन्तु जब वो बच्चे अपने दस्तावेज सहित कार्यालय पहुँचे तो उन्हें ये कहकर लौटा दिया कि आप सीधा हमारे पास आएँ, न कि ऑनलाइन registration के बाद। सरकार ने ये ऑनलाइन कार्यक्रम कार्यालयों में लगने वाली भीड़ को कम करने के लिए चलाया है, परन्तु रोजगार कार्यालय जो०नगर के कर्मचारी चाहते हैं कि इस सुविधा का लाभ न उठाया जाए और लंबी- लंबी कतारों में लग कर अपने नम्बर का इन्तजार करें, और फिर अगले दिन आने का वादा कर के जाएँ। क्या यह हि० सरकार की ऑनलाइन सुविधा, जो सिर्फ लोगों को बताने के लिए बनाई गई है? रोजगार कार्यालय जो० नगर के कर्मचारियों का ये बेरुखी वाला रवैया लोगों के लिए परेशानी का केन्द्र बनता जा रहा है। इतना ही नहीं कार्यालय के क्लर्क बच्चों को बेरंग भेजकर बाद में अपनी शेखी बघारते हैं | जब कार्यालय अधिकारी श्री अनिरुद्ध जी से जब बात की गयी तो उन्होंने पूरे प्रकरण पर अपनी अनभिग्यता जाहिर की व बताया ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की पूरी जानकारी शिमला ऑफिस से लेंगे |

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)