Header ad
Header ad
Header ad

राष्ट्रीय ई-विधान अकादमी की डीपीआर को मिली मंजूरी: बुटेल

Photo Credit To DPRO Kangra

हिमाचल प्रदेश विधान सभा के अध्यक्ष बृज बिहारी लाल बुटेल ने कहा कि धर्मशाला के तपोवन स्थित विधानसभा परिसर में राष्ट्रीय ई-विधान अकादमी (नेवा) खोली जाएगी तथा अकादमी स्थापना के लिये प्रक्रिया आरंभ कर दी गई है। उन्होंने कहा कि केन्द्रीय संसदीय कार्य मंत्रालय के सचिव ने अवगत करवाया है कि केन्द्र सरकार ने नेवा की स्थापना को लेकर तैयार डीपीआर को मंजूरी दे दी है तथा इसे लेकर अन्य औपचारिकतायें पूर्ण की जा रही हैं। वे आज तपोवन विधानसभा परिसर में ‘नेवा’ की स्थापना तथा सूचना प्रौद्यागिकी विभाग के सहयोग से विधानसभा के लिये मिडल लेयर सॉफ्टवेयर को विकसित करने बारे चर्चा के लिये आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए बोल रहे थे। इस दौरान केन्द्रीय संसदीय कार्य मंत्रालय के सचिव राजीव यादव भी विशेष तौर पर उपस्थित थे।

विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि ई-विधान अकादमी के खुलने से संसद सदस्यों, देश की विभिन्न विधानसभाओं, विधानमण्डलों के अध्यक्षों, सदस्यों एवं सम्बन्धित अधिकारी एवं कर्मचारियों को ई-विधान प्रणाली की सम्पूर्ण जानकारी एवं प्रशिक्षण की सुविधा प्राप्त होगी।
बुटेल ने कहा कि तपोवन में स्थित विधानसभा परिसर में राष्ट्रीय ई-विधान अकादमी की स्थापना के लिए प्रदेश सरकार की ओर से हर संभव सहयोग उपलब्ध करवाया जा रहा है। विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि केन्द्रीय समिति ने इस अकादमी को शीघ्र प्रारंभ करने की दिशा में प्रयास किये जा रहे हैं।
बुटेल ने कहा कि इस अकादमी के यहां स्थापित होने से इस क्षेत्र के लोग बड़ी संख्या में लाभान्वित होंगे। क्षेत्र में पर्यटन व्यवसाय बढ़ेगा तथा स्थानीय युवाओं को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। उन्होंने कहा कि विधानसभा परिसर के रख-रखाव एवं अन्य मरम्मत कार्यों को भी केन्द्र द्वारा किया जाएगा, जिससे प्रदेश सरकार के धन की बचत होगी तथा इस भवन का उचित उपयोग भी हो पाएगा।
बैठक में केन्द्रीय संसदीय कार्य मंत्रालय के सचिव राजीव यादव ने समिति को बताया कि भारत सरकार द्वारा ई-विधान प्रणाली को स्थापित करने के लिये बनाई गई डीपीआर को अनुमोदित कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि जैसे-जैसे देश की संसद और अन्य विधानसभाओं में ई-विधान प्रणाली लागू हो जायेगी वैसे ही राष्ट्रीय ई-विधान अकादमी स्थापित करने बारे कार्यवाही अमल में लाई जायेगी। उन्होंने इस अवसर पर तपोवन विधानसभा की कार्य प्रणाली के बारे मेें विस्तृत जानकारी प्राप्त की।
समिति सदस्य गुलाब सिंह ठाकुर ने कहा कि ई-विधान प्रणाली लागू करने के लिये हिमाचल प्रदेश विधानसभा मंे अधोसंरचना तैयार की गई है जिससे विधानसभा का कार्य पेपरलेस हो गया है। उन्होंने कहा कि ई-विधान अकादमी की शीघ्र स्थापना की जाये। उन्होंने इसे लेकर प्रभावी प्रयासों के लिये विधानसभा अध्यक्ष को बधाई दी।

बैठक में ई-गवर्नेंस एवं सामान्य प्रयोजनों संबंधी समिति के सदस्य विधायक गुलाब सिंह ठाकुर, विधायक रिखीराम कौंडल, अन्य सदस्य और प्रदेश विधानसभा के सचिव सुंदर सिंह वर्मा उपस्थित थे।

Post source : DPRO Kangra

About The Author

Profile photo of admin

Himsamachar.com is an online content publishing portal. The main objective of himsamachar.com is to provide a web-based platform for users to post their content online. The focus of the portal is to publish the content that is informational for public and the visitors.

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)