October 22, 2017

राम भरोसे थी कालेज की सुरक्षा

नेरचौक, ईएसआईसी मेडिकल कालेज में सुरक्षा-व्यवस्था को लेकर भी बड़ी लापरवाही का मामला सामने आया है। पिछले कई दिनों से मेडिकल कालेज की सुरक्षा व्यवस्था राम भरोसे चली हुई है। कालेज की सुरक्षा व्यवस्था में जीफोरएस स्कियोरिटी कंपनी द्वारा लगाए गए सिक्योरिटी गार्ड वापस बुलाए जा चुके हैं और पिछले कई दिनों से कुछ मजदूर ही सुरक्षा-व्यवस्था संभाले हुए हैं। कंपनी द्वारा सिक्योरिटी हटाने के बाद ही अब पाकिस्तान जिंदाबाद नारों व हिंदोस्तानियों को दी गई धमकियों का मामला सामने आया है। जो कि साफ इशारा कर रहा है कि निर्माणकर्ता कंपनी ने मेडिकल कालेज को लेकर किस कद्र लापरवाही बरती है। जानकारी के अनुसार निर्माण कार्य में लगी एनसीसी कंपनी ने कालेज की सुरक्षा-व्यवस्था का काम बद्दी की जीफोरएस कंपनी को दिया था, लेकिन पांच दिन पहले ही उसने चार लोगों को छोड़कर, बाकी सभी को वापस बुला लिया है। सिक्योरिटी कंपनी ने निर्माणकर्ता कंपनी 35 लाख रुपए लेने हैं। पिछले चार सालों से यहां जीफोरएस के 32 सिक्योरिटी गार्ड थे, जो कि शिफ्ट में रात और दिन ड्यूटी देते थे। उधर, जीफोरएस कंपनी के ब्रांच मैनेजर एमएस ठाकुर का कहना है कि नेरचौक में मेडिकल कालेज का निर्माण कार्य कर रही कंपनी से लाखों रुपए लेने हैं, पर कई महीनों से कंपनी पेमेंट ही नहीं दे रही। इस वजह से उन्होंने वहां से अपनी सिक्योरिटी को दूसरी जगह शिफ्ट कर दिया है।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *