October 22, 2017

मेले और उत्सव आस्था, श्रद्धा तथा उल्लास के प्रतीक : मुकेश अग्रिहोत्री

हमीरपुर, 29 अक्तूबर ( ) देवभूमि हिमाचल सांस्कृतिक दृष्टि
से अत्यंत समृद्व है। सांस्कृतिक परंपराओं एवं मूल्यों को हिमाचल के लोगों ने
सहेज कर रखा है। यही कारण हैं कि यहां अनेक मेले, पर्व तथा त्यौहार मनाए जाते
हैं। यह मेले और उत्सव लोगों की आस्था, श्रद्धा तथा उल्लास के प्रतीक हैं।
हिमाचल प्रदेश का सबसे अधिक साक्षर जिला हमीरपुर भी धार्मिक एवं सांस्कृतिक
दृष्टि से महत्वपूर्ण स्थान रखता है। यह उद्गार उद्योग एवं श्रम तथा सूचना एवं
सम्पर्क मंत्री मुकेश अग्रिहोत्री ने आज राज्य स्तरीय हमीर उत्सव की दूसरी
सांस्कृतिक संध्या के अवसर पर दीप प्रज्जवलित करने के उपरान्त अपने संबोधन
में प्रक्ट किये।
उन्होंने कहा कि हमीरपुर प्रदेश के उन तीन नए जिलों में से है जिनका गठन 1972
में हुआ तथा प्रथम सितंबर से यह अस्तित्व में आए। इन 41 वर्षों में हमीरपुर
जिला में विकास के अनेकों आयाम स्थापित हुए हैं तथा आज यह जिला विकास का आदर्श
बन गया है। उन्होंने कहा कि हमीरपुर जिला ने विकास के साथ सांस्कृतिक क्षेत्र
में भी अपनी उत्कृष्टता स्थापित करने का प्रयास किया है । उन्होंने कहा कि
हिमाचल के प्रथम मुख्यमंत्री डा यशवंत परमार के मार्गदर्शन में ही हमीरपुर
जिला गठित किया गया।
उन्होंने कहा कि वर्तमान परिपेक्ष्य में जिसमें हमारी लोक संस्कृति का निरंतर
ह्रास हो रहा है, को जीवित रखने के लिए ऐसे उत्सवों के आयोजन की नितांत
आवश्यकता है क्योंकि इनसे से हमारी प्राचीन संस्कृति का अनुसरण हो पाएगा। ऐसे
उत्सवों से जहां लोक कलाओं व प्रतिभाओं को बढ़ावा मिलता है वहीं आपसी सद्भावना
व आत्मीयता की प्रवृति भी विकसित होती है। ऐसे आयोजन ही समाज को एकता के सृत्र
में पिरोने के सशक्त माध्यम हैं।
उन्होंने उत्सव के सफल आयोजन के लिए हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए कहा कि जिला
प्रशासन ने इस उत्सव को सफल और आकर्षक बनाने के लिए व्यापक प्रबंध किए हैं।
मुझे आशा है कि इससे न केवल स्थानीय लोगों का मनोरंजन होगा बल्कि लोगों में
आपसी सद्भाव और भाईचारे की भावना को भी बल मिलेगा।
इससे पूर्व उपायुक्त हमीरपुर एवं मेला आयोजन समिति के अध्यक्ष आशीष सिंघमार
ने मुख्यातिथि एवं अन्यों का स्वागत किया।
इस अवसर पर संसदीय सचिव (ग्रामीण विकास) इन्द्रदत्त लखनपाल, विधायक सुजानपुर
विधान सभा क्षेत्र राजेन्द्र राणा, एपीएमसी अध्यक्ष प्रेम कौशल , केसीसी
निदेशक अनिल वर्मा , कांगड़ा केन्द्रीय सहकारी बैंक के उपाध्यक्ष श्री कुलदीप
पठानिया, एपीएमसी अध्यक्ष प्रेम कौशल, राकेश राणी अध्यक्ष महिला जिला महिला
कांग्रेस, मेजर विक्रम सिंह, नरेश ठाकुर, राज्य कांग्रेस महासचिव सुनिल विटटू,
चेतन लखनपाल, राजेश चौधरी, अजय शर्मा पुलिस अधीक्षक वीना भारती , एडीसी
हिमांशु शेखर चौधरी, एसी, सोनिया ठाकुर तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारी इस अवसर पर
उपस्थित थे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *