October 17, 2017

मुख्यमंत्री ने कलियारा में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की घोषणा की

कांगड़ा, मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने कांगड़ा जिला के शाहपुर विधानसभा क्षेत्र के कलियारा में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खोलने की घोषणा की है। उन्होंने क्षेत्र की पेयजल और सिंचाई आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए 50 हैंडपम्प और १० ट्यूबवैल स्थापित करने की घोषणाएं भी कीं। वह आज कलियारा में एक विशाल जनसभा को सम्बोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने शाहपुर में 281.64 लाख रुपये की लागत से निर्मित आईटीआई शाहपुर के छात्रावास, राज कूहल पर 137.91 लाख रुपये की सिंचाई योजना और 22.14 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने वाले राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला के अतिरिक्त भवन परियोजनाओं की आधारशिलाएं रखीं। वीरभद्र सिंह ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने हमेशा देश की एकता और अखण्डता में विश्वास रखा है और प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू से लेकर कांग्रेस नेतृत्व वाली सरकारों ने देश का सभी चहंुमुखी विकास सुनिश्चित किया है। उन्होंने कहा कि यह कांग्रेस सरकार ही थी, जिसने भू-सुधार कानून लाकर भूमि स्वामियों को उनकी भूमि का स्वामित्व दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि जब देश आज़ाद हुआ, उस समय आबादी 40 करोड़ के आस-पास थी और हमें दूसरे देशों से अनाज आयात करना पड़ता था, जबकि आज हमारी जनसंख्या 120 करोड़ से भी अधिक है और न हम केवल आत्मनिर्भर बने हैं बल्कि अनाज का निर्यात भी कर रहे हैं। स्वतंत्रता के पूर्व देश में औद्योगिक गतिविधियां न के बराबर थीं और दूसरे देशों को कच्चे माल की आपूर्ति करते थे, लेकिन अब देश में अभूतपूर्व औद्योगिक विकास हुआ है। उन्होंने कहा कि वह केन्द्र में इस्पात तथा सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्री रहे हैं, इसलिए वह कह सकते हैं कि हमारे उद्योग अन्य देशों की तुलना में कम नहीं है। वीरभद्र सिंह ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के नेताओं की बदौलत हिमाचल प्रदेश अस्तित्व में आया और देश का 18वां राज्य बना। कुछ राजनीतिक दलों ने हिमाचल के साथ पंजाब के कुछ पहाड़ी क्षेत्रों के विलय का विरोध किया था और हिमाचल का विलय पंजाब में करना चाहते थे। बाद में, इन दलों ने हिमाचल प्रदेश को पूर्ण राज्यत्व दर्जें का भी विरोध किया और आज इन दलों के नेता राज्य के सबसे बड़े हितैषी बनने का दावा करते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह गौरव की बात है कि हिमाचल न केवल छोटे राज्यों, बल्कि बड़े राज्यों में भी शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में अव्वल स्थान पर है।श्री वीरभद्र सिंह ने कहा कि हिमाचल प्रदेश एक शांतिप्रिय राज्य है, जहां समाज के सभी वर्गों के लोग शांति और समरसता के साथ रहते हैं। हालांकि अधिकांश जनसंख्या हिन्दुओं की है, लेकिन अन्य अल्पसंख्यक भी इसी तरह गरिमा और अधिकारों के साथ रह रहे हैं। मुख्यमंत्री ने मीडिया को राजद्रोह और लव जेहाद जैसे संवेदनशील मामलों की रिपोर्टिंग करते समय सावधान और सचेत रहने की अपील की। उन्होंने कहा कि कुछ शरारती तत्वों ने ईएसआई मेडिकल कॉलेज, मण्डी के बाथरूम में कुछ आपत्तिजनक टिप्पणियां लिखी हैं, जिनकी जांच एजेंसियों द्वारा छानबीन की जा रही है। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि कुछ समाचार पत्रों ने इस मामले में गंभीरतापूर्वक सोच विचार किए बिना टिप्पणियां की हैं। उन्होंने कहा कि लव जेहाद एक अलग मामला है, जिसे मीडिया द्वारा किसी संस्था के बहकावे में आकर आंवछित कवरेज दी जा रही है, जो मामले में एक भी नाम उपलब्ध नहीं करवा पाई है।
त थे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *