October 22, 2017

मिस्र के पूर्व राष्ट्रपति मुर्सी को मौत की सजा

 

hhaकाहिरा। मिस्र की एक अदालत ने साल 2011 की क्रांति के दौरान बड़े पैमाने पर जेल तोडऩे के मामले में पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद मुर्सी, मुस्लिम ब्रदरहुड के सर्वोच्च मार्गदर्शक मोहम्मद बादी और 100 अन्य इस्लामियों को मौत की सजा सुनाई है। साल 2011 की क्रांति में तानाशाह हुस्नी मुबारक सत्ता से बेदखल हुए थे। यह फैसला उस वक्त आया है, जब अदालत ने मुफ्ती-ए-आजम के साथ विचार-विमर्श किया। मिस्र के कानून के मुताबिक मुफ्ती-ए-आजम मौत की सजा की समीक्षा कर सकता है, लेकिन उनका फैसला बाध्यकारी नहीं होगा। इस मामले में 6 अभियुक्त सुनवाई में शामिल हुए, जबकि 96 के खिलाफ उनकी गैर मौजूदगी में सुनवाई की गई। इसी मामले में 22 अन्य अभियुक्तों को उम्रकैद की सजा सुनाई गई है, जबकि 8 लोगों को दो साल की जेल की सजा सुनाई गई। मामले में कुल 129 लोगों के खिलाफ मुकदमा चलाया गया है।

 

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *