October 22, 2017

मार्च से मिलेगा डिपुओं में सरसों का तेल

qw
शिमला, रिफाइंड के बाद सरसों के तेल के इंतजार में बैठे उपभोक्ताओं को मार्च से सिविल सप्लाई निगम अब सरसों के तेल के दो पैकेट देगा। सरसों के तेल की सप्लाई निगम के गोदामों में पहुंचना शुरू हो चुकी है। मार्च से मई तक प्रदेश के 16 लाख से भी ज्यादा उपभोक्ताओं को अब सरसों का तेल ही मिलेगा। सरकार ने व्यवस्था की है कि तीन-तीन माह के अंतराल में कभी सरसों का तेल तो कभी रिफाइंड ऑयल उपभोक्ताओं को दिया जाए। प्रदेश में 28 लाख लीटर सरसों का तेल व इतने ही रिफाइंड की खपत होती है। राज्य सरकार उपभोक्ताओं को इसके लिए 10 रुपए प्रति लीटर की दर से सबसिडी उपलब्ध करवा रही है। यानी बाजार से सस्ती दरों पर मुहैया करवाया जाएगा। उधर नमक के लिए अभी भी निगम फैसला नहीं कर सका है। सूत्रों का कहना है कि हिंदोस्तान साल्ट लिमिटेड को सरकार ने फिर से रिमाइंडर भेजा है कि आठ माह से चला बैकलॉग उसके लिए दिक्कतें बनने लगा है। लिहाजा इस बारे हिंदोस्तान साल्ट लिमिटेड अपनी स्थिति स्पष्ट करे। अधिकारियों का कहना है कि हो सकता है फरवरी तक इस बारे में तय हो जाए कि नमक केंद्रीय उपक्रम ही सप्लाई करेगा या फिर राज्य सरकार को वैकल्पिक व्यवस्था के तहत निजी कंपनियों से इसे जुटाना होगा। उपभोक्ताओं को बाजार से आठ रुपए प्रति किलो की दर से यह नमक डिपुओं के मार्फत सस्ता उपलब्ध करवाया जाता है।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *