October 20, 2017

‘भगवान के घर में नहीं होगी राजनीति’

default (8)कुल्लू (मोहर सिंह): भले ही हिमाचल प्रदेश के मंदिरों में देवनीति की जगह राजनीति का बोलवाला भी कुछ अरसों से ज्यादा हो गया था और कहीं अभी तक राजनीति हो भी रही है। लेकिन सरकार ने समय रहते मंदिरों में राजनीति न होने की पहल शुरू की है। वहीं जैसे ही भगवान रघुनाथ के मंदिर में चोरी की घटनाएं घट गई थी तो भगवान रघुनाथ के छड़ीबदार एवं विधायक महेश्वर सिंह और अन्य राजपरिवार के राजनितिज्ञों पर भी राजनीति करने की लोगों के अंदर अटकलें शुरू हो गई थी और लोगों ने भगवान रघुनाथ के घर में राजनीति हावी होने के कारण भगवान रघुनाथ चोरी होने की अटकलें लगा रखी थी। लेकिन भगवान रघुनाथ के छड़ीवदार महेश्वर सिंह ने लोगों द्वारा की जा रही अटकलों और अफवाहों पर कड़े संज्ञान में कहा है कि भगवान के घर में राजनीति न है और न होने दी जाएगी। उन्होंने कहा कि जिस दिन भगवान के घर में राजनीति चलेगी तो वह समय राजपरिवार के मिट जाने का होगा। उन्होंने राजा जगत सिंह के समय 363 पहले मूर्ति कुल्लू लाई गई थी और मेरे समय में मूर्ति चोरी हुई। यह बहुत बड़ा मेरे ऊपर लगने वाला कलंग अब टल गया है। उन्होंने अपने राजपरिवार को भी नसीहत दी है कि भगवान के घर में कभी राजनीति नहीं करना यह बिल्कुल वाध्य नहीं होगा और भगवान पर अटूट श्रद्धा रखने का संदेश दिया है। क्योंकि मंदिरों पर राजनीति करना गलत अवधारणा अपनाना है। लेकिन भगवान और कुल्लू घाटी के समस्त देवी-देवता ने मुझ पर कलंक लगने नहीं दिया है। 

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *