Home > Himachal Pradesh News > Kangra > बिलिंग में तलाशेंगे कृत्रिम झील बनाने की सम्भावनाएं: सुधीर शर्मा

बिलिंग में तलाशेंगे कृत्रिम झील बनाने की सम्भावनाएं: सुधीर शर्मा

kkkधर्मशाला, 29 अक्तूबर: शहरी विकास मंत्री एवं बिलिंग पैराग्लाईडिंग एसोसिएशन
के अध्यक्ष सुधीर शर्मा ने कहा कि टेक ऑफ साईट बिलिंग के आसपास उपयुक्त स्थल
पर कृत्रिम झील विकसित करने की सम्भावनाओं को तलाशा जाएगा। इससे स्थल की
सुंदरता तो बढ़ेगी ही साथ में एक्रो पायलट्स को अपने करतब दिखाने में भी आसानी
होगी। उन्होंने कहा कि टेक ऑफ साईट बिलिंग को विश्व की नम्बर एक टेक ऑफ साईट
बनाने के लिए यहां नई सुविधाएं विकसित करने के साथ-साथ साईट में आवश्यक सुधार
किया गया है, जिससे पायलट्स कम समय में एक साथ उड़ान भरने में सफल रहे हैं।
     सुधीर शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की लैंडिंग एरिया बीड़
में गोल्फ कोर्स बनाने की घोषणा के अनुरूप यहां गोल्फ कोर्स का निर्माण किया
जाएगा, जिससे एक और खेल इस क्षेत्र से जुड़ जाएगा। इन सब सुविधाओं के विकास से
बीड़ बिलिंग क्षेत्र दुनिया के बेहतरीन खेल एवं पर्यटन गणतव्यांे में शुमार
होगा।
     इससे पूर्व, पैराग्लाईडिंग विश्व कप में आज प्रातः 11 बजकर 10 मिनट पर
विंडो ओपन होते ही 115 पायलटों ने आज के 93.93 किलोमीटर के प्रतिस्पर्धात्मक
टास्क के लिए उड़ान भरी। उड़ान भरने वाले प्रतिभागियों में 13 महिला प्रतिभागी
भी शामिल रही।
     प्रतिभागियों के लिए आज का टास्क रूट टेक ऑफ साईट बिलिंग से
जोगिन्द्रनगर, टशीजाँग, मैक्लोड़गंज, खजूर टॉप से वापिस लैंडिंग साईट बीड़ रहा।
     इस अवसर पर उपायुक्त कांगड़ा रितेश चौहान भी उपस्थित थे।
‘‘खेल गांव बीड़ में हिमाचली संस्कृति की झलक’’
     बीड़ स्थित खेल गांव में पर्यटकों और विभिन्न देशों से आए मेहमानों और
प्रतिभागियों को हिमाचली संस्कृति से रू-ब-रू करवाने के लिए सांस्कृतिक संध्या
का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग के कलाकार अपने
कार्यक्रमों के माध्यम से सभी को हिमाचली संस्कृति से रू-ब-रू करवा रहे हैं।
     शहरी विकास मंत्री एवं बिलिंग पैराग्लाईडिंग एसोसिएशन के अध्यक्ष सुधीर
शर्मा ने कहा कि खेल गांव में सांस्कृतिक संध्या के दौरान स्थानीय कलाकार कला
का प्रदर्शन कर रहे हैं, जिससे विश्वभर से आए मेहमानों को हिमाचल की समृद्ध
संस्कृति को जानने का अवसर मिल रहा हैै। बड़े मंच पर प्रदर्शन का अवसर मिलने से
स्थानीय कलाकारों को भी प्रोत्साहन मिला है।
Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Current month ye@r day *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)
Directory powered by Business Directory Plugin