October 21, 2017

पपुआ न्यू गिनी में ज्वालामुखी फटा

सिडनी— पपुआ न्यू गिनी के पूर्वी क्षेत्र में माउंट तावूरवूर ज्वालामुखी के फटने से आसपास के क्षेत्रों से बड़ी संख्या में स्थानीय लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया है। इस कारण कई उड़ानों का मार्ग भी बदलना पड़ा है। ज्वालामुखी में विस्फोट की घटना शुक्रवार तड़के हुई। विस्फोट इतना जबरदस्त था कि इसकी आवाज कई किलोमीटर दूर तक सुनी गई। हवा में कई मीटर की उंचाई तक जलते हुए पत्थर के टुकड़े, राख और गर्म लावा निकलता दिखाई दिया और आसमान में घना काला धुआं छा गया। ज्वालामुखी की गतविधियों पर नजर रखने वाली राबौल स्थित वेधशाला से मिली खबरों के अनुसार ज्वालामुखी में विस्फोट काफी धीमी गति से शुरू हुआ, लेकिन बाद में इसमें तेजी आ गई। वर्ष 1994 में भी यह ज्वालामुखी फटा था। तब इसने साथ के माउंट वुल्कान ज्वालामुखी के साथ मिलकर काफी तबाही मचाई थी, जिससे पूरा राबौल शहर तबाह हो गया था। ज्वालामुखी के आसपास के क्षेत्रों से लोगों को तेजी से निकालने का काम पहले ही शुरू कर दिया गया था। प्रशासन ने ज्वालामुखी के शांत होने तक राबौल शहर के लोगों को घर में रहने की सलाह दी है। इस बीच आस्ट्रेलिया सरकार ने भी लोगों को ज्वालामुखी के आस-पास के इलाकों में नहीं जाने की हिदायत दी है। विमानों की उड़ानें भी इस क्षेत्र में वर्जित कर दी गई हैं और उनका रास्ता बदल दिया गया है।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *