October 20, 2017

पंचायतों में इन्टरनेट सुविधा प्रदान करने पर व्यय होंगे 35 करोड़ -विनय

नाहन 4 मार्च—प्रदेश की सभी 3243 ग्राम पंचायतों को इन्टरनेट सुविधा से जोडने पर चालू वित्त वर्ष के दौरान 35 करोड रूपये की राशी व्यय की जा रही है ताकि ग्राम पंचायतों की कार्यशैली में पारदर्शिता आने के साथ-साथ पंचायत के माध्यम से कार्यान्वित किए जा रहे विकास कार्यो का अवलोकन जिला एवं विकास खण्ड कार्यालय में आँनलाईन किया जा सके। यह जानकारी मुख्य संसदीय सचिव विनय कुमार ने मंगलवार को रेणुका निर्वाचन क्षेत्र के खूड़-द्राबिल में 3 लाख रूपये की लागत से नवनिर्मित पंचायत भवन का लोकार्पण करने के उपरान्त उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए दी। इसके अतिरिक्त उन्होने हाल ही में स्तरोन्नत हुए मिडल स्कूल खूड़-द्राबिल का भी उदधाटन किया। विनय कुमार ने कहा कि पंचायतें प्रशासन की मूल इकाई मानी जाती है जिनके माध्यम से सरकार के प्रत्येक कार्यक्रम ग्रास-रूट स्तर पर कार्यान्वित किए जाते है जिसका सीधा लाभ आम जनता को मिलता है। उन्होने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का भी सपना था कि पंचायतीराज प्रणाली को सशक्त किया जाए ताकि ग्रामीण क्षेत्रों का चहुंमुखी विकास सुनिश्चित हो और इसी कडी में प्रदेश सरकार द्वारा भी पंचायतो को प्रशासनिक, वित्तीय और न्यायिक शक्तियां प्रदान करके सशक्त बनाया गया है। उन्होने बताया कि राजीव गांधी पंचायत सशक्तिकरण अभियान के अन्र्तगत प्रदेश में चालू वित्त वर्ष के दौरान 200 पंचायत कार्यालयों को स्तरोन्नत करने पर 55 करोड रूपये की राशी व्यय की जा रही है। इसके अतिरिक्त पंचायतों को इस वर्ष 1185 लैपटाँप प्रदान करने की प्रक्रिया आरंभ कर दी गई है जिसके तहत सिरमौर जिला की 80 पंचायतों में लैपटाँप उपलब्ध करवाए जा रहे है। इसके अतिरिक्त सिरमौर जिला की 228 पंचायतों में से 225 ग्राम पंचायते तथा 6 पंचायत समिति कार्यालय आँन-लाईन हो गए है जिससे पंचायत कार्यालय सीधे तौर पर ब्लाँक एवं जिला मुख्यालय से जुड गए है। सीपीएस ने बताया कि खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत हिमाचल प्रदेश में लगभग 37 लाख लोग लाभान्वित हो रहे है जिन्हें सरकार द्वारा सस्ती दरों पर राशन उपलब्ध करवाया जा रहा है। इसके अतिरिक्त प्रदेश के सभी वर्ग के राशनकार्ड धारको को सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अन्र्तगत उपदान पर खाद्यान्न उपलब्ध करवाये जा रहे है जिस पर चालू वित्त वर्ष में 175 करोड रूपये की राशी व्यय की जा रही है। इस अवसर पर निदेश कृषि विकास बैंक मित्र सिंह तोमर, पूर्व जिला परिषद अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह, युवा कांग्रेस के मण्डलाध्यक्ष अजय चौहान जोनल अध्यक्ष कुशल सिंह तोमर ने भी अपने विचार रखे। स्थानीय प्रधान दीपो देवी ने सीपीएस का स्वागत करते हुए खूड़-द्राबिल के स्कूल का दर्जा बढाने तथा पंचायत के लिए अनेक योजनाएं स्वीकृत करने का आभार व्यक्त किया।

About The Author

Related posts