Header ad
Header ad
Header ad

गुरू पूजा दिवस के उपलक्ष में सन्त निरंकारी मिशन द्वारा सफाई अभियान आयोजित

शिमला 23 फरवरी : निरंकारी बाबा हरदेव सिंह जी महाराज के 59वें जन्म दिवस के उपलक्ष में सन्त निरंकारी मिशन द्वारा आज गुरु पूजा दिवस का आयोजन बैम्लाई स्थित सन्त निरकंारी सत्संग भवन के आस-पास के इलाकों में सफाई अभियान का आयोजन करके किया गया। इस अभियान का उद्देश्य समस्त मानवता को यह सन्देश देना था कि प्रकृति परमपिता परमात्मा की एक अनमोल देन है, जिसकी स्वच्छता रखना प्रत्येक व्यक्ति का परम कर्तव्य है ।

सफाई अभियान का उद्घाटन मिशन की वरिष्ठ सन्त एवं जोन न0 5 की प्रभारी बहन रजवन्त कौर भुल्लर जी ने किया । इस अवसर पर बहन जी ने कहा कि देश भर में निरंकारी बाबा हरदेव सिंह जी महाराज के जन्म दिवस के उपलक्ष में वृक्षारोपण एवं सफाई अभियान का आयोजन किया जाता है । शिमला में आजकल वृक्षारोपण के लिए प्रतिकूल वातावरण एवं मौसम को देखते हुए अभी केवल सफाई अभियान आयोजित किया जा रहा है । उन्होंने कहा कि सन्त निरंकारी मिशन के स्वयंसेवक ऐसे जन कल्याण कार्यों को करते हुए खुशी महसूस करते हैं व निःस्वार्थ भाव से मानवता की सेवा में अपना योगदान देते हैं व अपनी सामथ्र्य से भी बढ़ कर सेवा करतेे हंै, जिसका उदाहरण गत दिनों शिमला प्रशासन द्वारा आयोजित भूकम्प पूर्वाभ्यास में मिशन के सेवादल द्वारा की गई निःस्वार्थ सेवा है । उन्होंने कहा कि सफाई से वातावरण की शुद्धता बनी रहती है, जो आज के समय की ज़रुरत है । उन्होंने सभी से अपने घरों के आस-पास के वातावरण को भी शुद्ध एवं स्वच्छ बनाए रखने का आहवाहन किया ।

मिशन के स्वयंसेवकों ने सेवादल के क्षेत्रीय संचालक श्री इन्द्रमोहन जी एवं संचालक श्री अश्वनी वर्मा जी की अगवाई में सफाई का कार्य किया ।

तद्पश्चात् निरंकारी सत्संग भवन पर गुरू पूजा दिवस समागम का आयोजन किया गया, जिसमें विभिन्न वक्ताओं व गीतकारों ने अपनी आध्यात्मिक रचनाओं के माध्यम से सद्गुरू बाबा जी के जन्म दिवस की खुशी को प्रकट किया । श्री निमरत प्रीत सिंह भुल्लर जी द्वारा अंग्रेजी भाषा में दिया गया मिशन का सन्देश, श्री सुरजीत सिंह जी एवं पार्टी व बहन सुजाता जी एवं पार्टी द्वारा बाबा जी के जन्म दिन की खुशी के सामूहिक गीत तथा शिमला बाल संगत द्वारा प्रर्दशित सामूहिक पंजाबी नृत्य तथा एकत्व गीत अत्यन्त प्रभावशाली एवं सराहनीय रहे । अन्त में पूज्य बहन रजवन्त कौर जी ने समस्त साध संगत को मिशन का सत्य सन्देश एवं सद्गुरू बाबा जी की पावन आशीर्वाद प्रदान किया ।

उससे पूर्व समस्त साध संगत के लिए सामूहिक लंगर की व्यवस्था की गई थी ।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)