October 22, 2017

धूमल संपत्ति की जांच पर विचार

q
ऊना, भाजपा नेता प्रेम कुमार धूमल की संपत्ति मामले की जांच सीबीआई को भेजने का मसला प्रदेश सरकार के अधिकार क्षेत्र में है। यह बात मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने चौकीमन्यार में पत्रकारों से कही। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने पहले ही इसकी अनुशंसा राज्यपाल को स्वीकृति के लिए भेजी थी, लेकिन राज्यपाल ने इसके लिए सरकार को निर्णय लेने में सक्षम करार देते हुए फाइल वापस भेजी है। अब इस पर विचार करेंगे। विजिलेंस ने कहा है कि इस मामले में सीबीआई जांच इसलिए भी जरूरी है, क्योंकि ऐसा बताया जा रहा है कि उनकी कुछ संपत्ति अन्य राज्यों में भी है। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सत्ती द्वारा उनके भतीजे के खनन में शामिल होने और उस पर सीएम से माफी की मांग व कानूनी नोटिस भेजने की चेतावनी पर मुख्यमंत्री ने कहा कि वह चाहें तो सुप्रीम कोर्ट में जाएं, मेरी बला से। मैने ऐसा नहीं कहा कि वह ठेकेदार हैं, बल्कि उन्होंने कहा कि प्रदेशाध्यक्ष का एक भतीजा वनगढ़ एरिया में अवैध रूप से खनन कर रहा है। इसे लेकर संबंधित विभाग द्वारा उसे नोटिस भी भेजा गया है। उन्होंने कहा कि एक-एक भाजपा नेता की सच्चाई जानता हूं। इस अवसर पर उनके साथ उद्योग मंत्री मुकेश अग्निहोत्री और वित्तायोग के अध्यक्ष कुलदीप कुमार भी उपस्थित रहे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *