October 17, 2017

दूध ढुलाई को मांगे गाडि़यों के टेंडर

करसोग, प्रदेश मिल्क फेड द्वारा जो दूध ढुलाई के लिए वाहनों संबंधी निविधाएं मांगी गई हैं, उसमें करसोग के लोगों को रोजगार देने के लिए बदलाव किया जाए। इस बारे में करसोग निवासी सचिन गुप्ता, प्रवीन गुप्ता, कमलकांत शर्मा, हेमंत शर्मा, बलदेव कुमार, किशन कुमार ने कहा कि लगभग आधा दर्जन करसोग की संपर्क  सड़कों के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों का दूध जमा करने के लिए ढुलाई वाहन तो करसोग के स्थानीय लोगों द्वारा लगाए गए हुए हैं। जबकि करसोग से दत्तनगर तथा वापसी करसोग का दूध ढुलाई रूट अब बदल कर दत्तनगर से करसोग व वापसी दत्तनगर संबंधी निविधाएं मांगी गई हैं जो कि क्षेत्र के वाहन चालकों से रोजगार छीनने वाला प्रयास है। उन्होंने कहा कि जब से करसोग में मिल्क प्लांट चला हुआ है तब से यह रूट करसोग से दत्तनगर और वापसी करसोग चलता रहा है जो इसी दफा बदलते हुए निविधाएं 14 जनवरी तक मांगी गई हैं, जो सीधे तौर पर किसी को लाभ पहुंचाने की शंका प्रकट की जा रही है। उन्होंने कहा कि करसोग से दूध ढुलाई संबंधी जो भी वाहन निविधाएं मांगी गई हैं, उसकी अनुबंध प्रक्रिया करसोग से ही अमल में लाई जाए।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *