Header ad
Header ad
Header ad

दिल्ली में आप का भी निकला जनाज़ा –4 विधायक भाजपा की पकड में……. बिन्नी करेगा चीरहरण—भाजपा और कांग्रेस के आगे दिखी कमज़ोर आप

 

धरमसाला (अरविन्द शर्मा )

दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार बनी तो लगा देश की राजनीति में अब भारी सुधार आने वाला है I जनता को लगा की अब खरीद फरोक्त की राजनीती से आम आदमी को केजरीवाल आज़ादी दिलाने वाला है I नव वर्ष तक पहुँचते हुए इस पार्टी के मत्रियों ने पानी तथा बिजली की कीमतों को घटाने के तोहफे दे कर दिल्ली वासियों  के दिल जीत लिए I मत्रियों ने कहा की गाड़ी नहीं लेंगे ,बंगले नहीं लेंगे और सिकियोरिटी भी न लेंगे I मत दाताओं ने थोक में ताली पीटी ,परन्तु-पहले कार ले उड़े मंत्री ,फिर बंगलों पर कब्ज़ा हुआ,, केजरीवाल के जनता दरवार में हुए हंगामे के बाद सिकियोरिटी भी आ गयी, कुसुम्भी में यु पी की फ़ोर्स आ पहुंची I दिल्ली का मत दाता हतप्रद सा मुह में ऊँगली दबाए रह गया Iठग लिया नए परिंदों ने भी और बन गए बाज़ I

सबसे बड़ी मर एक माह में ही दिल्ली के वोटर को तब पड़ी जब पता चला की आप के विधायक भी बिकाऊ है I आम आदमी पार्टी के विनोद कुमार बिन्नी समेत चार विधायक पार्टी को दगा देने की कगार तक आ पहुंचे है और कांग्रेस की वैसाखी पर टिकी इस माईनर सरकार को गिराने की फिराक में है I मीडिया की मने तो ये सभी बिधायक बीजेपी के टच में हैंI कहा जा रहा है की  आप से नाराज ये विधायक  बीजेपी के दो नेताओं के संपर्क में हैं, हालांकि बीजेपी नेता इस बात से इनकार कर रहे हैं i

सूत्रों के मुताबिक आप के तीन विधायक पहले से ही बीजेपी के कुछ नेताओं से व्यक्तिगत स्तर पर संपर्क में थेI आप में बगावत के बाद भी बीजेपी लोकसभा चुनाव तक शांत रहने की रणनीति पर चल रही हैI लेकिन लोकसभा चुनाव के बाद दिल्ली की सियासत में उथलपुथल होने की संभावना हैI

सूत्रों के मुताबिक, बिन्नी ने जब मंत्रिमंडल गठन के वक्त विरोधी सुर उठाए थे, तब से वह बीजेपी के कुछ नेताओं के संपर्क में हैंI बिन्नी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जो खुलासा करने की बात की थी, वह खुलासा भी बीजेपी नेता नितिन गडकरी कर चुके हैंI बिन्नी उस वक्त आप और कांग्रेस में एक बड़े बिजनसमैन की मदद से हुई कथित डील का ही खुलासा करने वाले थे, लेकिन उस वक्त उन्हें लोकसभा चुनाव में टिकट देने का वादा कर शांत कराया गयाI

बीजेपी सूत्रों ने बताया कि बिन्नी के अलावा वेस्ट दिल्ली से आप के दो विधायक भी बीजेपी नेताओं के संपर्क में हैं. वे बीजेपी नेताओं से मिलकर आप को लेकर अपनी नाराजगी का इजहार कर चुके हैं. बहुत मुमकिन है कि बिन्नी के बाद ये भी बगावती सुर अख्तियार कर लें. वे अपनी पार्टी छोड़ने के लिए तैयार नहीं हैं, लेकिन पार्टी के भीतर रहकर ही उनकी मुश्किल बढ़ा सकते हैं. इनके अलावा एक और आप विधायक बगावत कर सकते हैं. ये विधायक बिन्नी के काफी करीबी हैं.

 

 

 

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)