October 21, 2017

डंगोली के दिलबाग की हमीरपुर में संदेहास्पद मौत का मामला ससुराल पक्ष पर हत्या करने का आरोप, एसपी से मिले मृतक युवक के पिता गुरचैन सिंह व भाई


ऊना (राजीव भनोट,राजन पुरी) जिला मुख्यालय के नजदीकी डंगोली के निवासी युवक दिलबाग सिंह की हमीरपुर के गांव जरल डाकखान उखली में हुई संदेहास्पद मौत के बाद समूचे गांव में तनाव चरम पर पहुंच गया है। मृतक युवक के परिजनों ने ससुराल पक्ष के लोगों पर उसकी हत्या करने का आरोप जड़ डाला है। इसी संदर्भ में वीरवार को परिजनों ने ग्राम पंचायत प्रधान की अगुवाई में एसपी ऊना को ज्ञापन पत्र सौंप मामले की स्थानीय स्तर से जांच करने की मांग उठाई।
ग्राम पंचायत प्रधान नरेश कुमारी की अगुवाई में एसपी से मिले मृतक युवक के पिता गुरचैन सिंह, भाई गुरमीत सिंह एवं दर्जनों डंगोली वासियों ने एसपी सुमेधा द्विवेदी को दिए ज्ञापन पत्र में आरोप लगाया है कि मृतक के दो साढुओं ने उसकी हत्या की है। जिसका कारण ससुराल पक्ष की जायदाद है। गुरचैन सिंह ने बताया कि उनके मृतक पुत्र की शादी दो वर्ष पूर्व उखली की विमला देवी के साथ हुई थी। लेकिन विमला का कोई भाई न होने के कारण उसके पिता दिलबाग को अपने साथ घर जमाई बनाकर ले गए थे। जिससे वह उनकी दे ाभाल कर सके। दिलबाग पिछले तीन चार माह से ससुराल में ही रह रहा था। उन्होंने बताया कि ससुराल पक्ष की ओर से युवक की मौत को लेकर बताए गए कारण अपर्याप्त हैं। जबकि उसकी मौत से उसके साढुओं को ही फायदा मिलना है। उन्होंने एसपी सुमेधा द्विवेदी से मामले की छानबीन कर उन्हें इंसाफ दिलाने की मांग की है। उधर, एसपी सुमेधा द्विवेदी ने एसपी हमीरपुर के हवाले से बताया कि मामले के संदर्भ में धारा ३०६ के तहत केस दर्ज किया गया है। लेकिन यदि मृतक के परिजनों का संदेह सत्य साबित हो जाता है तो प्राथमिकी को धारा 302 के तहत हत्या के केस में बदला जा सकता है। उन्होंने मृतक के परिजनों को एसपी हमीरपुर से मिलने की सलाह दी है।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *