October 24, 2017

जिला के सभी स्वास्थ्य केन्द्रों में लगेंगे बर्न इंजरीज जागरूता शिविर : धीमान

हमीरपुर, 28 जुलाई (सुशील ) :हमीरपुर जिला अस्पताल को एक पायलट प्रोजेक्ट के रूप में चुन कर क्षेत्रीय अस्पताल परिसर में 83.14 लाख रुपये की लागत से बनने वाले बर्न इकाई स्थापित की जा रही है। इस बर्न यूनिट के शुरू होने से यहां आग अथवा अन्य ज्वलनशील पदार्थों के कारण जलने वाले लोगों को उपचार की सुविधा मिलेगी। यह जानकारी आज आग से होने वाली दुर्घटनाओं तथा उनके बचाव के विषय पर आयोजित एक दिवसीय कार्यशाला में बतौर मुख्यातिथि उपस्थित शिक्षा मंत्री ईश्वर दास धीमान ने दी। उन्होंने बताया कि जिला में बर्न इंजरीज के उपचार के लिये पंचायती राज संस्थाओं के सदस्याओं, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं तथा स्कूल छात्रों के लिये 18 प्रशिक्षण शिविर आयोजित किये जा चुके हैं ताकि ज्वलनशील पदार्थों के कारण जलने वाले लोगों का समय पर उपचार करने में मदद मिल सके। उन्होंने कहा कि सभी स्वास्थ्य केन्द्रों में बर्न इंजरीज जागरूकता शिविर लागए जाएंगे ताकि अधिक से अधिक लोगों को जागरूक किया जा सके। शिक्षा मंत्री ने आग से होने वाली दुर्घटनाओं का हवाला देते हुए कहा ऐसी दुर्घटनाओं में ज्यादात्तर महिलाएं और बच्चे अज्ञानता , लापरवाही और असावधानियों के कारण इसके शिकार बनते हैंं। उन्होंने पंचायत प्रतिनिधियों का आह्वान करते हुए कहा कि अपने -अपने क्षेत्र में भी आम जनता को आग से होने वाली दुर्घटनाओं और उनके बचाव बारे जागरूक करें। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में ऐसी घटना सामने आती है तो तुरन्त अपना नैतिक कर्तव्य समझते पीडि़त को चिकित्सालय में लेकर जाएं। इससे पूर्व विधायक उर्मिल ठाकुर ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा बताया कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत स्मार्ट कार्ड धारकों को सामान्य बीमारियों के लिए 30 हजार रूपये तथा गंभीर बीमारियों के लिए एक लाख 75 हजार रूपये तक की मदद प्रदान की जा रही है। इस मौके पर सीएमओ डॉ एसके सोनी मुख्यातिथि तथा अन्य अतिथियों का स्वागत करते हुए बर्न इंजरीज कार्यशाला का मुख्य उद्देश्य अधिक से अधिक लोगों को जागरूक करना है। डॉ नागेन्द्र आहुलवालिया ने आग से होने वाली दुर्घटनाओं से कैसे बचाव किया जा सकता है के बारे सलाईडज के माध्यम से जानकारी दी। इस अवसर पर जिला परिषद् अध्यक्ष सरला शर्मा , समस्त बीडीसी अध्यक्ष और पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधि तथा बीएमओज उपस्थित थे।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *