October 23, 2017

जम गया आधा हिमाचल

शिमला — पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होते ही समूचा प्रदेश शीतलहर की चपेट में आ गया है। लगभग आधे प्रदेश में न्यूनतम तापमान जमाव बिंदु से नीचे पहुंच गया है। देश के अन्य राज्यों के मुकाबले हिमाचल का न्यूनतम तापमान सबसे कम आंका गया है। मौसम विभाग ने बुधवार और गुरुवार को प्रदेश में भारी बर्फबारी की चेतावनी दी है। मंगलवार को भी राज्य की ऊंची चोटियों पर हिमपात का सिलसिला जारी रहा। गोहर, जोगिंद्रनगर, सेओबाग व मनाली में हल्की बर्फबारी रिकार्ड की गई। जनजातीय क्षेत्रों के तापमान में कोई सुधार नहीं हो रहा है। बुधवार को केलांग का तापमान -11.3 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। इसी तरह शिमला का न्यूनतम तापमान 0.7 व अधिकतम 8.8, सुंदरनगर का -0.2 व 14.6 भुंतर का -0.2 व 10.7, कल्पा का -7.0 व 3.0, धर्मशाला का 5.6 व 11.8, ऊना का 1.0 व 18.8 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। मौसम विभाग का अनुमान सही निकलता है तो जनवरी महीने में बर्फबारी होने से पर्यटन सीजन को पंख लगेंगे। क्रिसमस व न्यू ईयर पर बर्फबारी की आस में हिमाचल में काफी तादाद में पर्यटक पहुंचे थे, लेकिन उन्हें मायूस ही लौटना पड़ा था। ऐसे में दोबारा बर्फबारी पर्यटन सीजन के लिए लाभदायक साबित हो सकती है। राज्य के सेब बागबान भी पिछले काफी दिनों से बर्फबारी का इंतजार कर रहे हैं। सेब सीजन के लिए बर्फबारी प्राकृतिक खाद का कार्य करती है। वहीं, मैदानी इलाकों में यदि बारिश होती है तो गेहूं सहित अन्य फसलों के लिए काफी लाभदायक साबित होगी।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *