Header ad
Header ad
Header ad

गौवंश की रक्षा के लिए आगे आएं: उपायुक्त

Pashu Palan 3 (1)हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय के आदेशों की कड़ाई से अनुपालना के लिए उपायुक्त
मदन चैहान की अध्यक्षता में आज यहां गौसदन संरक्षक एवं गौ सेवकों की बैठक
आयोजित की गई। इस बैठक में जि़ले की सभी पंचायतों, राष्ट्रीय उच्च मार्ग तथा
राज्य उच्च मार्ग पर खुले में छोड़ी गई गाय के संरक्षण पर विस्तारपूर्वक चर्चा की
गई।मदन चैहान ने बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि सोलन जि़ले में वर्तमान में
लगभग 16 गौसदन कार्यरत हैं, जिनमें 2500 से 3000 तक गाय रखने की क्षमता है।
उन्होंने कहा कि जि़ले में अभी भी काफी संख्या में खुले में सड़कों में गाय
हैं। उन्होंने सभी गौ संरक्षकों तथा गौ सेवकों से आग्रह किया कि वे अपने
आसपास के क्षेत्रों में सड़कों पर खुले में घुम रही गाय को गौसदनों में
रखना सुनिश्चित बनाएं। प्रदेश सरकार ने गौसदनों के लिए इस वित्त वर्ष में 7
लाख रुपये उपलब्ध करवाए हैं।
उपायुक्त ने कहा कि जि़ले के सभी पंचाचत प्रतिनिधियों का यह दायित्व बनता है
कि वे खुले में छोड़े जा रहे पशुओं पर नजर रखें ताकि ऐसा करने वाले
दोषियों के विरूद्ध उचित कार्रवाई की जा सके।
नालागढ़-बद्दी-बरोटीवाला क्षेत्र में बड़ी संख्या में खुले में छोड़े जा रहे
गौवंश के संदर्भ में उपायुक्त ने कहा कि पड़ोसी राज्यों से भारी संख्या में
इस क्षेत्र में गौवंश को खुले में छोड़ा जा रहा है। यह पशु स्थानीय
लोगों की फसल को नुकसान पहुंचा रहे हैं और इससे क्षेत्र में खुले में घूम
रहे पशुओं की संख्या में भी वृद्धि हो रही है। उन्होंने पुलिस एवं आबकारी
तथा कराधान विभाग को निर्देश दिए कि प्रदेश की सीमा के साथ लगते क्षेत्रों
में कड़ी चैकसी रखी जाए।
चैहान ने पशुपालन विभाग को निर्देश दिए कि जि़ले के सभी गौसदनों में
पशुओं का नियमित परीक्षण सुनिश्चित बनाया जाए। उन्होंने कहा कि विभाग के
चिकित्सक महीने में एक दिन गौसदनों का दौरा कर गौवंश का परीक्षण एवं उपचार
सुनिश्चित बनाएंगे। उन्होंने कहा कि सभी गौसदन संरक्षक एवं सेवक इसके लिए
पशुपालन विभाग के उप निदेशक के मोबाईल नम्बर 94182-22623 पर सम्पर्क कर सकते
हैं। उन्होंने गौशालाओं के लिए चारे की उचित व्यवस्था करने के भी पशुपालन
विभाग को निर्देश दिए।
उपायुक्त ने सभी गौ संरक्षकों तथा गौ सेवकों की सराहना करते हुए कहा कि
इनके सत्त प्रयास गौवंश को सुरक्षित रखने में महत्वपूर्ण सिद्ध हो रहे हैं।
बैठक में विभिन्न सदस्यों ने गौसदनों के लिए भूमि उपलब्ध करवाने, नालागढ़
क्षेत्र के रडियाली में पशु मंडी बन्द करने तथा गौसदनों को गाय की संख्या के
आधार पर चारे के प्रबन्ध के लिए अनुदान देने की मांग की।
बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त सीपी वर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक भगत सिंह ठाकुर,
पीओ डीआरडीए एसडी नेगी, उप निदेशक पशुपालन डाॅ. अनिल गुप्ता, जि़ला
पंचायत अधिकारी विजय बरागटा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Share

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please Solve it * *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)