October 19, 2017

गरली से ज्वालामुखी को चले बस

गरली, 18 करोड़ रुपए की लागत से बने नवनिर्मित चंबापत्तन पुल के उदघाटन को हुए करीब 45 महीने का लंबा वक्त गुजर जाने के पश्चात भी इस पुल से गरली-ज्वालामुखी की ओर आज तक विभागीय प्रशासन ने मात्र एक ही निजी बस को चलाया है, जबकि उपमंडल देहरा की तीन विधानसभा क्षेत्र के करीब पांच लाख ग्रामीणों की सुविधा हेतु ऊंट के मुंह में जीरे वाली बात है। पुल उद्घाटन के करीब आठ महीने तक और धूमल सरकार ने प्रदेश का कार्यभार संभाला, लेकिन उनके कार्यकाल में ग्रामीणों का कहना है कि कांग्रेस सरकार ने भी इस रूट पर आज तक नई बसें न दौड़ा कर कोई कसर नहीं छोड़ी है। लोगों ने बताया है कि ज्वालामुखी से गरली का रास्ता काफी शार्टकट होने के कारण ग्रामीणों को वहां आने-जाने के लिए मजबूरन महंगी गाडि़यों का सहारा लेना पड़ रहा है, वहीं स्थानीय लोगों की बात मानें, तो अंब (ऊना) से वाया गरली ज्वालामुखी के लिए गत करीब अढ़ाई वर्षों से मात्र एक निजी बस प्रतिदिन तीन चक्र तो काटती है, लेकिन वह नाकाफी है। क्षेत्रवासियों ने सीएम व विधायक से मांग उठाई है कि शीघ्र यहां के लोगों की समस्या का समाधान करें।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *