Header ad
Header ad
Header ad

कंगारू ड्राइविंग सीट पर

 

p9-11-270x300सिडनी —  आस्ट्रेलिया ने गेंदबाजों के जबरदस्त प्रदर्शन की बदौलत भारत को उसकी पहली पारी में 475 के स्कोर पर निपटाने के बाद चौथे टेस्ट के चौथे दिन पांच विकेट शेष रहते कुल 348 रन की मजबूत बढ़त हासिल कर मैच पर पकड़ मजबूत बना ली। भारतीय टीम को आस्ट्रेलियाई टीम ने चायकाल तक उसकी पहली पारी में 162 ओवरों में 475 के स्कोर पर ढेर कर दिया। इसके बाद आस्ट्रेलिया ने अपनी दूसरी पारी की शुरुआत की और दिन का खेल पूरा होने तक 40 ओवरों में छह विकेट पर 251 रन बनाकर शुरुआती बढ़त के आधार पर कुल 348 रनों की बढ़त हासिल कर ली।  आस्ट्रेलिया के अभी चार विकेट शेष हैं और उसके उपकप्तान ब्रैड हैडिन (नाबाद 31) और रेयान हैरिस (शून्य) क्रीज पर डटे हुए हैं। आस्ट्रेलिया की दूसरी पारी में भारतीय आफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने 19 ओवरों में 105 रन देकर सर्वाधिक चार विकेट निकाले जबकि भुवनेश्वर कुमार ने आठ ओवरों में 46 रन पर एक और मोहम्मद शमी ने छह ओवरों में 33 रन पर एक विकेट हासिल किया।

स्मिथ ने पीछे छोड़े डॉन ब्रैडमैन आस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीवन स्मिथ ने भारत के खिलाफ चार मैचों की शृंखला में 770 रन बनाकर महान बल्लेबाज सर डान ब्रैडमैन के रिकार्ड को तोड़ा, लेकिन वह एवर्टन वीक्स के ओवरआल रिकार्ड तोड़ने से 10 रन से चूक गए। स्मिथ ने चौथे और आखिरी टेस्ट मैच के चौथे दिन शुक्रवार को यहां आस्ट्रेलिया की दूसरी पारी में 71 रन बनाए और इस तरह से उन्होंने शृंखला में अपने कुल रन की संख्या 770 पर पहुंचाई। इससे पहले का रिकार्ड डान ब्रैडमैन के नाम पर था, जिन्होंने 1947-48 की शृंखला में भारत के खिलाफ पांच मैचों की छह पारियों में 715 रन बनाए थे। भारत के खिलाफ एक शृंखला में सर्वाधिक रन बनाने का रिकार्ड हालांकि अब भी वेस्टइंडीज के एवर्टन वीक्स के नाम पर है, जिन्होंने 1948-49 में 779 रन बनाए थे।

Share

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please Solve it * *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)