Header ad
Header ad
Header ad

‘ओबामा के लिए खतरनाक नहीं दिल्ली की हवा’

defaultनई दिल्ली: अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा का 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस पर बतौर मुख्य अतिथि भारत आगमन और दिल्ली की आबोहवा में व्याप्त प्रदूषण के कारण उनके स्वास्थ्य को होने वाले नुकसान से संबंधित रपटों के बीच इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) के अध्यक्ष डॉ. ए. मार्तण्ड पिल्लै और महासचिव पद्मश्री डॉ. के.के. अग्रवाल का कहना है कि अमेरिकी राष्ट्रपति के स्वास्थ्य को यहां किसी तरह का नुकसान नहीं होगा। डॉ. पिल्लै और अग्रवाल के अनुसार, वायु प्रदूषण के संपर्क में थोड़ी देर के लिए आने पर इसका बहुत गंभीर असर नहीं होता और यदि होता भी है तो इसका प्रभाव धीरे-धीरे खत्म हो जाता है। ‘एयर क्वालिटी इंडेक्स’, जिसे अमेरिका की पर्यावरण सुरक्षा एजेंसी ने बनाया है, हवा में प्रदूषण का स्तर मापने का एक सूचक है। ‘एयर क्वालिटी इंडेक्स’ 0-50 तक ठीक है, 51 से 100 मॉडरेट है, 101 से 150 संवेदनशील लोगों के लिए अस्वास्थ्यकर है और 151 से 200 तक हर किसी के लिए अस्वास्थ्यकर है। ओबामा के दिल्ली आगमन के मद्देनजर यहां के वायु प्रदूषण के संदर्भ में पूछे जाने पर विशेषज्ञों ने कहा कि ओबामा इससे पहले ऐसे कई देशों की यात्रा कर चुके हैं, जहां वायु प्रदूषण का स्तर काफी ज्यादा है, जैसे अफगानिस्तान, पोलैंड, सिनेगल, चीन, ब्राजील, मिस्र, सऊदी अरब और भारत। डॉ. अग्रवाल ने बताया कि अफगानिस्तान में वायु प्रदूषण का स्तर भारत के समान ही है। अपनी पिछली भारत यात्रा के दौरान ओबामा आगरा भी गए थे, जहां हवा में ‘सब्सटेंशियल पर्टिकुलेट मैटर’ की मात्रा अच्छी-खासी है। 
पर्यावरण सुरक्षा एजेंसी के हालिया वायु प्रदूषण संबंधी आंकड़े बताते हैं कि अमेरिका के विभिन्न इलाकों में भी प्रदूषण का स्तर काफी बढ़ा है जो स्वास्स्थ्य के लिए हानिकारक है। कैलिफोर्निया में तो वायु प्रदूषण का स्तर 473 एक्यूआई तक पहुंच गया है। जबकि दिल्ली में एक्यूआई का स्तर 250 से 300 के बीच है। उन्होंने बताया कि 250-300 के बीच एक्यूआई पहुंचने पर यह हृदय और फेफड़े की समस्याएं बढ़ा सकता है और दिल की बीमारियों से पीड़ित और बुजुर्ग लोगों के लिए असमय मौत की वजह भी बन सकता है। जिन लोगों को दिल या फेफड़े संबंधी बीमारी है, उन्हें प्रदूषण में आउटडोर एक्टिविटी से बचना चाहिए। 

Share

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please Solve it * *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)