Header ad
Header ad
Header ad

आबादी रजिस्टर में शामिल होगा आधार कार्ड नम्बर -उपायुक्त : 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के सभी नागरिकों को मिलेगा राष्ट्रीय पहचान पत्र

नाहन 24 अगस्त- राष्ट्रीय आबादी रजिस्टर में आधार कार्ड का नम्बर शामिल करने
के  दृष्टिगत  सिरमौर जिला में आगामी 7 सितम्बर से 6 अक्तूबर 2015 तक
डोर-टू-डोर सर्वे करवाया जाएगा। यह जानकारी उपायुक्त सिरमौर, श्री बीसी
बडालिया ने आज यहां इस कार्यक्रम को जिला में प्रभावी ढंग से कार्यान्वित करने
के लिए आयोजित अधिकारियों की बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी।
उन्होने कहा कि यह कार्यक्रम पांच चरणों में पूरा किया जाएगा, जिसके दो चरणों
का कार्य पहले ही पूरा किया जा चुका है और अब तीसरे चरण के दौरान अपडेशन, चौथे
चरण के दौरान वेरिफिकेशन  तथा पांचवे एवं अन्तिम चरण के दौरान सभी प्रक्रिया
पूरी होने के उपरांत 18 वर्ष व इसके अधिक आयु वर्ग के सभी नागरिकों को
राष्ट्रीय पहचान पत्र जारी किए जाएगें।
  उन्होने बताया कि डोर-टू-डोर सर्वे के दौरान प्रगणकों द्वारा आधार कार्ड की
वेरिफिकेशन की जाएगी और जिनके आधार कार्ड अभी तक नहीं बने है, उनके लिए सरकार
द्वारा अलग प्रोफोर्मा निर्धारित किया गया है और उसे मौके पर प्रगणकों द्वारा
भरवाना सुनिश्चित किया जाएगा  ताकि परिवार के सभी व्यक्तियों का नाम राष्ट्रीय
आबादी रजिस्टर में आधार नम्बर के साथ दर्ज हो सके।
उपायुक्त ने बताया कि सर्वेक्षण के उपरांत प्राधिकृत अधिकारियों की देखरेख में
दस्तावेजों की सूक्ष्म जांच व डिजीटलाईजेशन का कार्य किया जाएगा । उन्होेने
कहा कि सिरमौर जिला में अब तक 92 प्रतिशत लोगों के आधार कार्ड बन चुके है और
इस अभियान के दौरान शत-प्रतिशत लक्ष्य हासिल किया जाएगा। उन्होेने कहा  कि
 राष्ट्रीय आबादी रजिस्टर की अपडेशन का कार्य वर्ष 2011 की जनगणना के अनुरूप
किया जाएगा, और  एनपीआर में आधार कार्ड के नम्बर  को शामिल  किया जाएगा।
उन्होने कहा कि सिरमौर जिला में 1377 प्रगणक ब्लॉक बनाए है जिसके प्रत्येक
ब्लाक में एक-एक प्रगणक को डोर-टू-डोर सर्वे करने का कार्य सौंपा जाएगा।
उन्होने बताया कि इस कार्य के लिए जिला स्तर पर अधिकारियों को भारत सरकार के
एनपीआर के अधिकारियों  द्वारा 24 से 27 अगस्त 2015 तक प्रशिक्षण प्रदान किया
जाएगा इसके उपरांत तहसील स्तर पर चार्ज अधिकारियों को 2 और 3 सिंतबर 2015 को
प्रशिक्षण दिया जाएगा।
उपायुक्त ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि इस समयबद्ध कार्य को निपटाने
मेें किसी प्रकार की लापरवाही न की जाए और जिला में सभी एसडीएम अपने स्तर पर
प्रगणकों का चयन कर सकते है ताकि सर्वेक्षण का कार्य निर्धारित अवधि में पूरा
हो सके।
जिला राजस्व अधिकारी श्री रजनीश ने अधिकारियों को एनपीआर के बारे विस्तृत
जानकारी दी।े
बैठक में जिला में कार्यरत समस्त एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदार,शहरी निकाय
के कार्यकारी अधिकारी व अन्य संबधित विभाग के अधिकारियों ने भाग लिया।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)